|DL Apply Online Simple Steps| ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाएं- सारथी परिवहन लाइसेंस

0
207

ड्राइविंग लाइसेंस क्या होता है | ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाएं | Driving Licence Ke Liye Online Apply Kaise Kare | ड्राइविंग लाइसेंस कितने प्रकार के होते है | DL Online Apply In Hindi

तो दोस्तों आज हम बताएंगे ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनता है और इसका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाता है इसके बारे में हम आपको पूरी जानकारी देंगे। आपका ड्राइविंग लाइसेंस अगर पहले से बना हुआ है तो ठीक है और अगर आपको नया बनवाना है तो आपको यह जानकर खुशी होगी कि अब इसका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन भी हो सकता है आपको आरटीओ कार्यालय के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी आप घर पर ही बैठ कर इसका फॉर्म भर सकते हैं और आरटीओ के द्वारा एक ऑनलाइन टेस्ट देकर इसका लर्निंग डीएल बनवा सकते हैं। क्योंकि किसी भी तरह का Driving Licence बनवाने के लिए आपको सबसे पहले उसका लर्निंग DL बनवाना पड़ता है इसके लिए कम से कम आपकी उम्र 18 वर्ष होनी चाहिए।

Driving Licence Kya Hota Hai

 ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना बहुत जरूरी है इसके बिना आप रोज किसी भी तरह का वाहन नहीं चला सकते यह गैरकानूनी है एक तरह की परमिशन होती है कि आप अपना वाहन रोड पर चला सके इसके अलावा इस सर्टिफिकेट को एड्रेस प्रूफ भी माना जाता है और आईडी प्रूफ भी माना जाता है यह बहुत काम की चीज है इसलिए Driving Licence बनवाने बहुत जरूरी है अगर आप किसके बिना अपना कोई वाहन चलाते हुए पकड़े गए तो इसके लिए आपको पेनेल्टी का भी भुगतान करना पड़ता है।

ड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाएं

ड्राइविंग लाइसेंस क्या है ?

Driving License एक तरह का सर्टिफिकेट है जिसके द्वारा आप अपना कोई भी वाहन जैसे स्कूटर बाइक कार बस ट्रक आदि रोड पर बिना किसी रोक-टोक के चला सकते हो अगर आपके पास Driving License नहीं है तो आपको काफी सावधानी बरतनी पड़ेगी कहीं आप चेकिंग में पकड़े गए तो आपको इसका रोड चालान भुगतना पड़ सकता है। आज के जमाने में हर आदमी अपने वाहन से सफर करना पसंद करता है क्योंकि आजकल ज्यादा पॉपुलेशन की वजह से इतनी भीड़ रहती है कि ट्रेनों और बसों में सफर करना बहुत मुश्किल हो गया है इसलिए जो लोग कार से सफर करना चाहते हैं या मोटरसाइकिल या स्कूटी से सफर करना चाहते हैं तो उनके लिए और भी जरूरी हो गया है कि वह अपना Driving Licence बनवा लें और अगर कार चलाने के लिए आप एक ड्राइवर रखते हो तो उसकी पूरी तरीके से जांच कर लें |

Driving License

DL बनवाने के लाभ

  • Driving License बनवाने के बहुत से लाभ हैं एक तो यह एक ही अगर आप कहीं पर जा रहे हैं और रोड पर चैकिंग हो रही है और आप चेकिंग के प्रोसेस में आ गए और अगर आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं है तो आपको ₹500 का चालान भुगतना पड़ सकता है |
  • इसका एक फायदा यह भी है कि यह आपकी आईडी प्रूफ के यूज में भी लाया जा सकता है क्योंकि बहुत से सरकारी योजनाओं में अगर आपके पास कोई सही प्रमाणित सर्टिफिकेट नहीं होता है तो उसकी जगह आप DL की कॉपी लगा सकते हैं।
  • अगर किसी सरकारी योजना में आपको एड्रेस प्रूफ की आवश्यकता है तो उसमें Driving License एड्रेस प्रूफ की आवश्यकता की पूर्ति करता है और आप किसी भी योजना में ऐसे एड्रेस प्रूफ के तौर पर लगा सकते हैं।
  •  एक सरकारी विभाग द्वारा दिया जाता है इसलिए इसकी अहमियत और भी बढ़ जाती है इसलिए जो व्यक्ति कोई वाहन चलाता है तो उसके पास DL का होना बहुत जरूरी है।

ड्राइविंग लाइसेंस के प्रकार

यहां हम आपको बता रहे हैं कि DL कितने तरह के होते हैं भारत में ड्राइवर लाइसेंस के कई प्रकार हैं जो निम्नलिखित है।

  • लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस
  • परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस
  • डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस
  • इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस
  • लाइट मोटर वाहन ( एलएमवी)
  • हैवी मोटर वाहन ( एचएमवी)

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए जरूरी प्रमाण पत्र

  • मतदाता पहचान पत्र
  • स्कूल या कॉलेज की मार्कशीट
  • आधार कार्ड
  • एड्रेस प्रूफ के लिए बिजली का बिल
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Driving License बनाने के लिए फीस

यहां हम आपको एक टेबल के जरिए समझा रहे हैं कि कौन से ड्राइविंग लाइसेंस के लिए कितनी फीस लगती है

लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस      ₹200
ड्राइविंग लाइसेंस      ₹200
कमर्शियल ड्राइविंग लाइसेंस      ₹600
इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस     ₹1000

ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस आवेदन की प्रक्रिया

ड्राइविंग लाइसेंस
  • इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके बाद आपको अपना राज्य सेलेक्ट करना है। राज्य सेलेक्ट करने के बाद एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • इस पेज की बाईं तरफ अप्लाई ऑनलाइन का विकल्प आएगा।
Driving License Online
  • आपको अप्लाई ऑनलाइन विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको New Driving License पर क्लिक करना है।
New Driving License
  • फिर आपको इस ऑनलाइन प्रक्रिया के बारे में निम्नलिखित सूचना दिखाई देगी।
  • एप्लीकेशन डिटेल भरना।
  • अपलोड डॉक्युमेंट्स।
  • अपलोड फोटो और सिग्नेचर।
  • लर्निंग लाइसेंस टेस्ट स्लॉट बुकिंग।
  • पेमेंट ऑफ फीस।
  • यह सभी जानकारी भरने के बाद और जरूरी कागजात अपलोड करने के बाद Continue बटन पर क्लिक करना होगा।
Registration form ड्राइविंग लाइसेंस
  • सभी कागजात को स्कैन करके फिर अपलोड करना है।
ड्राइविंग लाइसेंस
  •  उसके बाद फोटो और सिग्नेचर को स्कैन करके अपलोड करना है।
  • फोटो और सिग्नेचर को अपलोड करने के बाद आपको लर्निंग स्लॉट बुकिंग करनी होगी।
  • बुकिंग करने के बाद आपको पेमेंट के विकल्प पर जाना होगा वह आपको पेमेंट के कहीं ऑप्शन दिए होंगे आप अपनी इच्छा अनुसार जिस तरह से भी भुगतान करना चाहते हैं उसे सेलेक्ट करें और भुगतान कर दे आपकी यह प्रक्रिया पूरी हुई।
  • यह प्रक्रिया पूरी करने के पश्चात आपको इसमें एप्लीकेशन नंबर और दूसरी जानकारी दी जाएगी।
  • इस प्रक्रिया के बाद आपको ड्राइविंग टेस्ट के लिए तारीख बता दी जाएगी आपको उस तारीख पर डीएल टेस्ट के लिए आरटीओ ऑफिस जाना होगा।
  • लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के बाद आप को परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए इस ऑनलाइन प्रक्रिया को दोबारा दोहराना पड़ेगा।

डीएल बनवाने की प्रक्रिया

  • RTO द्वारा किसी भी व्यक्ति को सबसे पहले लर्निंग लाइसेंस जारी किया जाता है, जो बनने की डेट से 6 महीने तक वैलिड रहता है।
  • कैंडीडेट लर्निंग डीएल बनने के एक महीने बाद परमानेंट डीएल बनवा सकता है।
  • अगर किसी व्यक्ति से लर्निंग लाइसेंस बनने के 6 महीने के भीतर परमानेंट डीएल नहीं बनवाया तो लर्निंग लाइसेंस एक्सपायर हो जाएगा। फिर कैंडीडेट को डीएल के लिए दोबारा लर्निंग लाइसेंस बनवाना पड़ेगा।
  • इसलिए लर्निंग लाइसेंस की एक्सपायरी डेट का ख्याल रखें।

लार्निंग लाइसेंस केसे बनवाए

  • सबसे पहले आपको लार्निंग लाइसेंस बनवाने के लिए अपने जिले के आरटीओ ऑफिस में एक फॉर्म भरना है।
  • इस फॉर्म में चार पासपोर्ट साइज फोटो लगाने के अलावा इसके साथ डेट ऑफ बर्थ आईडी और एड्रेस प्रूफ के डॉक्यूमेंट की फोटो कॉपी भी अटैच करनी है।
  • आईडी और एड्रेस प्रूफ के वेरिफिकेशन के लिए आपको ओरिजिनल डॉक्यूमेंट साथ रखने हैं।
  • आरटीओ ऑफिस से संबंधित अधिकारी आपकी फॉर्म को चेक करने के बाद आपसे लर्निंग लाइसेंस के लिए निर्धारित फीस जमा करता है।
  • इसके बाद आपको एक रिटन टेस्ट के लिए भेजेगा अलग-अलग राज्यों में लिए जाने वाले लार्निंग लाइसेंस के इस टेस्ट में 10 से लेकर 20 तक क्वेश्चन पूछे जाते हैं।
  • रोड ट्रैफिक रूल से जुड़े इन सवालों के सामने आपको राइट टिकमार्क करना होता है।
  • इस टेस्ट में लगभग 60% तक सही जवाब देने पर आप क्वालीफाई हो जाएंगे।
  • यह टेस्ट देने के बात लगभग 7 दिन के अंदर अंदर आपका लर्निंग लाइसेंस स्पीड टेस्ट या रजिस्टर्ड पोस्ट से आपके घर तक पहुंच जाएगा।

ऑनलाइन आवेदन प्रोसेस खत्म होने पर क्या करें

  • ऑनलाइन आवेदन प्रोसेस पूरी होने पर आपका फिजिकल ड्राइविंग टेस्ट शुरू होगा।
  • मतलब आपने 2 या 4  जिस भी वहीकल के लिए अप्लाई किया है वह वाहन आपको संबंधित अधिकारी के सामने ठीक से चला कर दिखाना होगा।
  • इस टेस्ट को देने के लिए आपको अपना वाहन लेकर जाना होता है।
  • टेस्ट देते समय आपको बिल्कुल भी अपनी ड्राइविंग को लेकर ओवरकॉन्फिडेंस नहीं होना है बल्कि शांति से अपना टेस्ट देना।
  • टेस्ट देते समय सामने खड़े अधिकारी के इंस्ट्रक्शन को मानते हुए आपको सभी ट्रैफिक रूल्स को भी फॉलो करना है।
  • जब सम्बंधित मोटर व्हीकल इंस्पेक्टर आपको ड्राइविंग लाइसेंस टेस्ट में पास घोषित कर देगा उसके बाद आपके आवेदन को पूर्ण रूप से स्वीकृति मिल जायेगी और कुछ ही दिनों में ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त किया जा सकता है।

नोट –

 हम आप लोगों को एक बात बताना जरूरी समझते हैं कि आपके पास कोई भी DL हो आप उसकी फोटो कॉपी अपने पास जरूर रखें क्योंकि कभी-कभी ऐसा होता है कि आपका ड्राइविंग लाइसेंस कहीं खो जाता है तो उसकी फोटो कॉपी से आप डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस निकलवा सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here