ई-कॉमर्स (E-commerce) क्या होता है और ई-कॉमर्स पर बिज़नेस कर पैसे कैसे कमाए

ई -कॉमर्स (E-commerce) क्या होता है | ई-कॉमर्स पर बिज़नेस कर पैसे कैसे कमाए | E- Commerce वेबसाइट कैसे शुरू करें

0
17

वर्तमान समय में हमारा सारा काम इंटरनेट के माध्यम से ही हो रहा है। ऐसे में हम शॉपिंग भी इंटरनेट के माध्यम से ही कर रहे हैं और इस शॉपिंग को हम ई-कॉमर्स के नाम से जानते हैं। पर क्या आप लोग जानते हैं कि हम E-Commerce पर अपना बिजनेस स्टार्ट करके पैसा भी कमा सकते हैं। अगर नहीं तो दोस्तों आपको बता दूं के आप बिल्कुल सही पोस्ट पढ़ रहे हैं आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ई कॉमर्स ( E-Commerce) क्या होता है अथवा ई-कॉमर्स से बिजनेस कर पैसे कैसे कमाए जाते हैं बताने जा रहे हैं। जानने के लिए आपको हमारा आर्टिकल ध्यान पूर्वक पढ़ना होगा

ई-कॉमर्स (E- Commerce) क्या होता है?

ई-कॉमर्स या इंटरनेट कॉमर्स एक तरह से ऑनलाइन शॉपिंग मोड है जिसका इस्तेमाल करके आप चीजें खरीद वा बेच सकते हैं। ई-कॉमर्स के माध्यम से आप इंटरनेट पर डाटा आदान प्रदान, पैसों की ट्रांसफर, मोबाइल रिचार्ज अथवा टीवी रिचार्ज भी आसानी से कर सकते हैं। यह आपका समय बचाता है और बिना बाधा व्यवसाय शुरू करने की अनुमति देता है।

ई-कॉमर्स

API क्या है

E- Commerce बिजनेस के प्रकार?

ई-कॉमर्स बिजनेस को चार अलग-अलग श्रेणियों में बांटा गया है। चलिए जानते हैं उन चारों श्रेणियों के बारे में

Business To Business

बिजनेस टू बिजनेस ट्रांजैक्शन में सिर्फ कंपनियां एक-दूसरे के साथ ही व्यवसाय करती हैं। इसमें फाइनल कंस्यूमर शामिल नहीं होता है इसमें सिर्फ मैन्युफैक्चरर, होलसेल और रिटेलर ही शामिल होते हैं।

Business To Consumer

बिजनेस टू कंस्यूमर में कंपनी समान सीधा उपभोक्ता को बेचती है। उपभोक्ता वेबसाइट पर जाकर प्रोडक्ट, पिक्चर और रिव्यू देखता है और फिर ऑर्डर देता है। कंपनी वह माल उनके घर तक पहुंचाती है उदाहरण के तौर पर आपने जैसे अमेजॉन व फ्लिपकार्ट से कोई सम्मान ऑर्डर किया तो वह डायरेक्ट आपके घर पर डिलीवरी ब्वॉय के द्वारा पहुंचा दिया जाता है

Consumer To Consumer

कंस्यूमर टू कंस्यूमर में उपभोक्ता एक दूसरे के साथ सामान और संपत्ति बेचने में मदद करता है। कंस्यूमर टू कंज्यूमर में कोई उपभोक्ता सामान बेचता है तो कोई उपभोक्ता सामान खरीदना है उदाहरण के तौर पर जैसे OLX, Quicker, eBay आदि।

Consumer To Business

कंस्यूमर टू बिजनेस में उपभोक्ता और व्यवसाय के बीच लेनदेन होता है। जैसे कि कोई उपभोक्ता अपनी वेबसाइट बनवाने के लिए ऑनलाईन बनवाते हैं और दूसरी कंपनी उपभोक्ता के लिए वेबसाइट बना कर देती है उसको कंस्यूमर टू बिजनेस कहा जाता है।

अपना खुद का ई-कॉमर्स व्यवसाय शुरू करने से क्या फायदा होता है

  • Law Barrier to Entry – अगर कोई अपना बिजनेस शुरु करता है तो उसके लिए उसे सबसे पहले दुकान किराए पर लेनी होती है और अपने प्रोडक्ट रखने होते हैं और फिर उसकी मेंटेनेंस करनी होती है जिसमें उनका खर्च बहुत हो जाता है पर अगर ई-कॉमर्स की बात की जाए तो ई कॉमर्स में ऐसा नहीं है आप बिना शॉप को किराए पर लिए भी अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं।
  • Unlimited Reach – अगर कोई अपना बिजनेस करता है तो उसकी दुकान के आसपास ही लोग उसका सामान देख सकते हैं  लिमिटेड लोग ही आपकी दुकान पर आ पाते हैं पर ई बिजनेस के साथ ऐसा कुछ नहीं है आप अपने प्रोडक्ट को टारगेट ऑडियंस तक पहुंचा सकते हैं चाहे वह दुनिया के किसी भी कोने पर हो।

ई-कॉमर्स के फायदे

  • ई-कॉमर्स व्यवसाय को ग्लोबल बाजार तक पहुंचने में मदद प्रदान करता है
  • E-commerce का उपयोग आप किसी भी समय कर सकते हैं।
  • ई-कॉमर्स के माध्यम से आप अच्छे और सस्ते उत्पाद देख सकते हैं।
  • इसके माध्यम से आप व्यवसाय राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ा सकते हैं।
  • ई-कॉमर्स आप को बेहतर सुविधाएं प्रदान करता है
  • E-commerce के माध्यम से कागजी काम भी कम होते हैं।

ई-कॉमर्स वेबसाइट कैसे शुरू करें

  • मार्केटप्लेस चुने: खुद का इकॉमर्स बिजनेस शुरू करने से पहले आपको मार्केटप्लेस चुनना होगा के आपको खुद का मार्केट प्लेस पर वेबसाइट शुरू करना है या फिर किसी मौजूदा मार्केटप्लेस पर व्यवसाय करना है।दोस्तों आपको बता दूं के अगर आप किसी मौजूदा मार्केटप्लेस के साथ जुड़कर अपना व्यवसाय करते हैं तो इसमें आपको ज्यादा आसानी होगी क्योंकि इसमें लॉजिस्टिक जैसे कि सर्विस, पैकिंग, सामग्री आदि उसी मार्केटप्लेस से आपको मिल जाएगी जिसके साथ आप काम कर रहे हैं। 
  • खुद का ई-कॉमर्स रजिस्टर्ड करें: आपका ई कॉमर्स बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको व्यवसाय को रजिस्टर करवाने की आवश्यकता पड़ेगी। ‌ आपको अपने व्यवसाय को नियमों के मुताबिक उचित ढंग से रजिस्टर करना होगा क्योंकि इससे आपका आगे का काम आसान हो जाएगा जैसे पैन कार्ड के लिए अप्लाई करना बिजनेस का नाम से खाता चालू करना अथवा जीएसटी पंजीकरण करवाना।
  • डोमेन नेम बुक करें: खुद की कंपनी का रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद अब आपके लिए जरूरी है कि अपने बिजनेस को ऑनलाइन रोक देने के लिए उसका डोमेन नेम बुक करें याद रखें कि आपने बिजनेस से मिलता-जुलता ही नाम आपको डोमेन का रखना होगा।
  • ई-कॉमर्स वेबसाइट बनाए: डोमेन नेम सेलेक्ट करने के बाद आपको अपनी ई-कॉमर्स वेबसाइट बनानी होगी। यह आप किसी डेवलपर की मदद लेकर भी बनवा सकते हैं
  • विक्रेताओं को जोड़ें: ई कॉमर्स बिजनेस स्टार्ट करने का सबसे मुख्य अंग है कि आपको अपने व्यवसाय को आगे लेकर जाने के लिए कई सारे विक्रेताओं को जोड़ना होगा आपका ई कॉमर्स बिजनेस तो  होगा क्योंकि जितने ज्यादा विक्रेता ऑनलाइन स्टोर से  जुड़ेंगे उतना ही आपको फायदा होगा
  • पेमेंट गेटवे का चयन करें: खुद का वेबसाइट शुरू करने के बाद ग्राहकों के भुगतान को क्रेडिट कार्ड डेबिट कार्ड नेट बैंकिंग आदि के माध्यम से संशोधित करने के लिए पेमेंट गेटवे की आवश्यकता होती है। इसके माध्यम से ग्राहकों को ऑनलाइन पेमेंट करने की अनुमति प्रदान की जाती है इसलिए आपके लिए जरूरी है कि आप पेमेंट गेटवे का चयन करें।
  • लॉजिस्टिक का इंतजाम करें: जब आप कोई ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं तो जस ऑनलाइन स्टोर से आप शॉप करते हैं उनके द्वारा आपके घर तक सामान सुरक्षित पहुंचाया जाता है इसीलिए ई कॉमर्स बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे आवश्यक कदम है कि आप किसी लॉजिस्टिक कंपनी से संपर्क करें और किसी ऐसी कंपनी से संपर्क करें जो सस्ते दामों में आपको सर्विस दे क्योंकि लोग  सामान पसंद आने के बाद भी खरीद नहीं पाते उसके डिलीवरी चार्जेस देखकर इसीलिए अगर आपको अपना व्यवसाय आगे बढ़ाना है तो तो ऐसे कंपनी चुनें जो उचित मूल्य पर अधिक से अधिक जिम्मेदारी पूरी करें।
  • उपभोक्ता को इंटरनेट पर ढूंढें: अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए सबसे इंपॉर्टेंट स्टेप है कि आप इसका एडवर्टाइज करें क्योंकि जितना आप इसका एडवर्टाइज करेंगें उतना ही लोग आपके व्यवसाय को देख पाएंगे। इससे आप अन्य उपभोक्ताओं को अपने साथ जोड़ पाएंगे और इससे आपको लाभ मिलेगा।

Conclusion

प्रिय दोस्तों उम्मीद करते हैं के आपको हमारा आर्टिकल के माध्यम से समझ आ गया होगा कि ई कॉमर्स (E-commerce) क्या होता है और ई-कॉमर्स पर बिजनेस कैसे शुरू किया जाता है आगे भी इसी तरह आपको अपना आर्टिकल के माध्यम से और विषयों के बारे में जानकारी प्रदान करती रहूंगी अगर आपको कोई कठिनाई आए तो आप हमसे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं आप का कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here