एनआईटी (What is NIT) क्या है- एनआईटी में एडमिशन कैसे होगा, चयन प्रक्रिया व योग्यता

NIT Kya Hota Hai और इसकी फुल फॉर्म क्या होती है एवं एनआईटी में एडमिशन कैसे होगा व इसकी चयन प्रक्रिया तथा योग्यता क्या होती है जाने हिंदी में

वर्तमान समय में जितने भी युवा विद्यार्थी हैं जिन्होंने अपनी 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण कर ली है वह अब अपने बेहतर कैरियर विकल्प के लिए Engineering की तरफ रुख कर रहे हैं जिसके लिए वह अपनी तैयारी भी जोर शोर से करते हैं ऐसे में उन्हें JEE Mains और Advance की परीक्षा को उत्तीर्ण करके IIT(Indian Institute of Technology) के माध्यम से एडमिशन लेने में काफी जद्दोजहद करनी पड़ती है परंतु इंजीनियरिंग करने का एक और बेहतर विकल्प जो है इन NIT के माध्यम से भी होता है क्योंकि एनआईटी जो है वह भी आईआईटी के स्तर के बाद छात्रों को इंजीनियरिंग करने का मौका प्रदान करता है जिससे जो अभ्यार्थी किसी कारणवश आईआईटी में दाखिला नहीं पाते वह एनआईटी के माध्यम से आसानी से इंजीनियरिंग कर लेते हैं। जिससे उन्हें एक बेहतर कैरियर विकल्प भी प्राप्त हो जाता है।

What is NIT

इंजीनियरिंग के क्षेत्र में एनआईटी एक प्रकार का इंजीनियरिंग शिक्षण संस्था है जोकि 12वीं पास उन विद्यार्थियों को Engineering करने का मौका प्रदान करता है जो किसी कारणवश आईआईटी में दाखिला नहीं ले पाए हैं इसके साथ ही बताते चलें की भारत में एनआईटी का एक विशेष दर्जा माना जाता है जिसके माध्यम से छात्र B.Tech,M.Tech आदि करके एक सफल कैरियर बना लेते हैं एनआईटी के माध्यम से इंजीनियरिंग का Graduation और Post Graduation Course भी कराया जाता है और वर्तमान समय में भारत में लगभग 30 से भी ज्यादा एनआईटी विभिन्न जगहों पर स्थापित किए जा चुके हैं। जोकि बहुत से इंजीनियरिंग के छात्रों को एक बेहतर शिक्षा प्रदान करने का कार्य कर रहा है।

NIT

ITI Course क्या है

एनआईटी का फुल फॉर्म

यदि एनआईटी के फुल फॉर्म की बात किया जाए तो इसका पूरा नाम ‘National Institute of Technology’ है जोकि भारत के इंजीनियरिंग क्षेत्र में दूसरे नंबर पर नामी संस्थाओं में गिना जाता है और वही पहले नंबर पर आईआईटी यानी ‘इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी है।

एनआईटी का इतिहास क्या है

आज के समय में देखा जाए तो इन एनआईटी (National Institute of Technology) के माध्यम से प्रति वर्ष लाखों की संख्या में अभ्यर्थी Engineering के क्षेत्र की पढ़ाई कर रहे हैं और अपने Career को बना रहे हैं परंतु क्या आपको पता है कि एनआईटी की शुरुआत कहां से की गई थी वर्ष 1951 में एनआईटी की स्थापना की गई थी जो कि क्षेत्र इंजीनियरिंग कॉलेज(REC) के नाम से ही जाना जाता था परंतु भारत सरकार के अधीन मानव संसाधन मंत्रालय के द्वारा 2002 में इसमें एक महत्वपूर्ण बदलाव करते हुए इसमें 17 और Engineering College को जोड़कर इसका पूरा नाम राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान यानी कि ‘National Institute of Technology’ कर दिया जोकि पूरे भारत में आईआईटी के बाद दूसरा सफल इंजीनियरिंग शिक्षण संस्था माना जाता है।

भारत के प्रमुख एनआईटी संस्था कौन से है

वर्तमान समय में भारत में बहुत से एनआईटी संस्था है जो कि अभ्यार्थियों को उच्च स्तर की Engineering की शिक्षा प्रदान कर रहे हैं और उनके भविष्य को उज्जवल बनाने का कार्य कर रहे हैं ऐसे में निम्नलिखित हम आपको भारत के प्रमुख एनआईटी संस्था के नाम दर्शाने जा रहे हैं।

  • NIT Orissa
  • NIT Kerala
  • NIT Tamil Nadu
  • NIT Karnataka
  • NIT Telangana
  • NIT Haryana
  • NIT Motilal Nehru University, Prayagraj
  • NIT Jaipur, Rajasthan
  • NIT Sardar Vallabhbhai Patel, Surat, Gujarat
  • NIT Nagpur, Maharashtra
  • NIT Puducherry
  • NIT Meghalaya
  • NIT Sikkim
  • NIT Mizoram
  • NIT Uttarakhand
  • NIT Srinagar
  • NIT Maulana Azad,Bhopal,MP
  • NIT Dr.Bhimrao Ambedkar University, Jalandhar Punjab
  • NIT Agartala
  • NIT Raipur,Chhattisgarh
  • NIT Durgapur,West Bengal
  • NIT Goa
  • NIT Jamshedpur
  • NIT Patna,Bihar
  • NIT Delhi
  • NIT Motilal Nehru National Institute of Technology
  • NIT Silchar
  • NIT Yupia
  • NIT Dimapur
  • NIT Tadepalligudem
NIT

MBA Kya Hai

एनआईटी के माध्यम से कराए जाने वाले कोर्स

यदि आप भी है National Institute of Technology के माध्यम से Engineering करना चाहते हैं तो इसके द्वारा आपको Course के रूप में काफी अच्छे विकल्प भी प्राप्त हो सकते हैं जिसके बारे में हम आपको निम्नलिखित बताने जा रहे हैं।

Course NameTime
B.Tech4 Years
M.Tech2 Years
B.Arch5 Years
M.Arch2 Years
MCA2 Years
MBA2 Years
B.Tech & M.Tech Integrated Course5 Years
M.Sc Course2 Years
P.hd Course5 Years

NIT कोर्स हेतु एडमिशन लेने की योग्यता

यदि आप इन एनआईटी Course में Admission लेना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ योग्यता भी निर्धारित की गई है जिसके बाद ही आपको एनआईटी के माध्यम से दाखिला प्राप्त हो सकता है जो कि हम आपको निम्नलिखित बताने जा रहे हैं।

  • एनआईटी के माध्यम से Admission लेने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं की परीक्षा को अच्छे नंबर से उत्तीर्ण करना होगा।
  • यदि आपने 12वीं की परीक्षा Physics Chemistry Math विषय के साथ उत्तीर्ण की है तो आप एनआईटी के माध्यम से Admission पाने के लिए योग्य है
  • एनआईटी के माध्यम से प्रवेश हेतु आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं न्यूनतम 75% अंकों के साथ पास करनी होगी।
  • एनआईटी के माध्यम से प्रवेश हेतु आपको Engineering की मुख्य परीक्षा JEE Mains को अच्छी रैंक के साथ पास करना होगा।
  • जेईई मेंस की जो परीक्षा होती है वह वर्ष में दो बार Online माध्यम से कराई जाती है जिसे पास करने के बाद ही आपको एनआईटी Colleges में Admission मिल सकता है।

NIT College में एडमिशन की प्रक्रिया

यदि आपने एनआईटी के माध्यम से Admission लेने का सोचा है तो उसके लिए आपको Engineering की मुख्य प्रवेश परीक्षा जेईई मेंस को पास करना होगा जिसके बाद ही उम्मीदवारों को उनके नंबर के हिसाब से Ranking प्रदान की जाती है तथा उसके बाद Counselling के आधार पर उनको College निर्धारित किया जाता है जिसके बाद ही उनका Admission हो पाता है हालांकि JEE Mains की परीक्षा को पास करना आसान नहीं है परंतु यदि आप अच्छे से पढ़ कर मेहनत करेंगे तो निश्चित रूप से आपका Selection एनआईटी कॉलेजों में आसानी से हो जाएगा जिसके बाद आप अपनी Engineering की पढ़ाई करके अपने बेहतर कैरियर विकल्प को आसान बना सकते हैं।

एनआईटी के माध्यम से इंजीनियरिंग करने के बाद नौकरी का क्या अवसर है

आमतौर पर यह देखने को मिला है कि जब भी कोई छात्र Engineering कर लेता है तो उसे आसानी से प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नौकरी प्राप्त हो जाती है ऐसे में National Institute of Technology के माध्यम से कोई अभ्यार्थी अपनी इंजीनियरिंग को पूर्ण करके नौकरी पाना चाहे तो उसके लिए बहुत ही आसानी से उसे किसी बड़ी IT Companies में Job प्रदान किया जाता है और एनआईटी के माध्यम से तो कॉलेजों के द्वारा Replacement भी किसी अच्छी Multi National Company या फिर National Company में भी हो जाता है जिसके द्वारा छात्रों को लाखों के सालाना पैकेज प्रदान किए जाते है और आज के समय में जिस तरह से डिजिटल करण तेजी से बढ़ रहा है ऐसे में इंजीनियरों की मांग में भी तेजी आई है।

NIT और IIT में अंतर क्या है?

जैसा कि आप जानते हैं कि आईआईटी यानी कि इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में एडमिशन पाने का सपना हर एक छात्र देखता है जोकि अपने बेहतर कैरियर विकल्प को एक सही दिशा देने के लिए वह Engineering करना चाहता है ऐसे में बहुत से ऐसे भी छात्र हैं जिन्हें NIT और IIT में अंतर नहीं पता तो हम आपको बताते चलें कि एनआईटी और आईआईटी में Admission पाने के लिए छात्रों को प्रवेश परीक्षा देनी होती है जो कि जेईई मेंस और एडवांस के रूप में होती है परंतु इन दोनों में अंतर इतना है कि जो भी छात्र JEE Mains को पास कर लेता है उसे एनआईटी के माध्यम से Admission मिल जाता है परंतु IIT में Admission लेने के लिए छात्र को JEE Mains के साथ-साथ JEE Advance को भी पास करना होता है उसके बाद ही वह आईआईटी में एडमिशन पा सकता है।

Leave a comment