ओएमआर शीट (OMR Full Form) क्या है- ऑप्टिकल मार्क रीडर कैसे काम करता है?

0
384

ओएमआर शीट क्या है | OMR Full Form Kya Hai | ऑप्टिकल मार्क रीडर कैसे काम करता है | ओएमआर शीट भरने की प्रक्रिया क्या है | ओएमआर शीट डाउनलोड कैसे करे |ओएमआर शीट डाउनलोड पीडीएफ

दोस्तों आपने कभी ना कभी ओएमआर शीट के माध्यम से परीक्षा जरूर दी होगी। क्या आप जानते हैं कि ओएमआर कैसे काम करता है? अगर नहीं तो आज हम आपको इस लेख के माध्यम से ओएमआर कैसे काम करता है बताएंगे और इसी के साथ हम आपको ओएमआर के फायदे, नुकसान, ओएमआर शीट को भरने की सही प्रक्रिया आदि के बारे में बताएंगे। दोस्तों यदि आपको OMR Sheet पर एग्जाम देना है और आपको नहीं पता कि आपको OMR Sheet कैसे भरनी है तो हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे। आपसे अनुरोध है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

ओएमआर क्या है?

आपने परीक्षाओं में जब भी कभी मल्टीपल चॉइस वाले प्रश्नों का उत्तर दिया होगा तो आपने हमेशा OMR Sheet पर दिया होगा। OMR Sheet पर जवाब देने के लिए आपको बोला गया होगा कि आपको सही ऑप्शन को काला करना है। आपके मन में कई बार यह सवाल आया होगा कि यह ओएमआर शीट कैसे काम करती है तो आइए हम आपको बताते हैं कि ओएमआर कैसे काम करता है। ओएमआर को हम ऑप्टिकल मार्क रिकॉग्निशन के नाम से भी जानते हैं। यह एक प्रकार का स्कैनर होता है। यह कुछ विशेष प्रकार के चिन्हों या फिर मार्क्स को पहचानने के लिए डिज़ाइन किया जाता है।

ओएमआर क्या है

Computer Operator कैसे बने

OMR Full Form

OMR के माध्यम से ओएमआर शीट को स्कैन किया जाता है। ओएमआर शीट को लेजर लाइट के माध्यम से डाटा एंट्री की जाती है। ओएमआर शीट में जो आपने काले घेरे किए होते हैं वहां से लेजर की मात्रा कम वापस आती है और जहां पर आपने गोले को काला नहीं किया हुआ है, वहां से लेजर की मात्रा ज्यादा वापस आती है। इस प्रकार ओएमआर स्कैनर आप की ओएमआर शीट का डाटा इनपुट करता है और आपके दिए हुए जवाबो को पहचान लेता है। ओएमआर का इस्तेमाल सिर्फ परीक्षाओं में नहीं होता है बल्कि कई और जगह पर भी ओएमआर का इस्तेमाल डाटा कलेक्शन के लिए किया जाता है।

OMR Full Form

ओएमआर के फायदे

  • ओएमआर स्केनर के माध्यम से समय की बचत होती है क्योंकि 1 घंटे के अंदर अंदर ओएमआर स्कैनर के माध्यम से 10,000 से अधिक कॉपियां जांची जा सकती हैं।
  • OMR स्कैनर के माध्यम से कॉपी जाचे जाने में गलतियां होने की संभावना ना के बराबर रहती है।
  • ओएमआर स्कैनर के माध्यम से डाटा कलेक्ट करने में कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ता। बहुत ही सरलता से डाटा कलेक्ट किया जा सकता है।

OMR के नुकसान

  • ओएमआर शीट को भरते समय बहुत ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है।
  • यदि ओएमआर शीट में कोई उत्तर गलत भर दिया है तो इस स्थिति में उसे सही नहीं किया जा सकता।
  • OMR स्कैनर को सिंगल डाटा कलेक्शन केलिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। यह सिर्फ मल्टीपल चॉइस ऑप्शन के लिए ही इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • ओएमआर शीट को यदि अच्छे से नहीं भरा है तो ओएमआर स्केनर उसके डाटा को कलेक्ट नहीं करेगा।
ओएमआर शीट

ओएमआर शीट भरने की प्रक्रिया

  • OMR Sheet को भरते समय गोले को पूरी तरीके से काला करना अति आवश्यक है। उसे आधा काला ना करें क्योंकि फिर मशीन उसे नहीं पढ़ पाएगी।
  • ओएमआर शीट में काला करने के अलावा किसी और तरह का निशान जैसे की टिक या क्रॉस नहीं लगाया जा सकता।
  • OMR Sheet का गोला भरते वक्त लाइन बाहर ना जाए केवल गोले के अंदर ही काला निशान करना है।
  • गोले को भरते वक्त उसे बार-बार बिगाड़ा नहीं जा सकता।
  • यदि आपने ओएमआर शीट में एक गोला भर के उसे काट के दूसरा उसी उत्तर में भरा है तो इस स्थिति में ओएमआर स्केनर आपका उत्तर रीड नहीं करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here