|How To Play Chess In Hindi| शतरंज कैसे खेलें: शतरंज के नियम, Chess Kaise Khele

0
240

Chess Kya Hoti Hai | शतरंज कैसे खेलें | शतरंज खेलने का तरीका क्या है | शतरंज के नियम क्या- क्या है | How To Play Chess In Hindi

आज हम आपको अपनी इस पोस्ट के माध्यम से शतरंज कैसे खेलते हैं, नियम और उसके लाभ आदि से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करने वाले हैं। जैसे कि सभी लोग जानते हैं कि शतरंज खेलना कोई बच्चों का खेल नहीं है इसके लिए दिमाग होना चाहिए। शतरंज को हम चेज भी कहते हैं। बहुत ही कम लोग ऐसे हैं जिन्हें शतरंज खेलना तो दूर की बात है बल्कि उसके मोहरो के नाम भी नहीं पता होते है। इस खेल में महारत हासिल करने और सामने वाले व्यक्ति को हराने के लिए बहुत ज्यादा अभ्यास करना पड़ता है उसके बाद ही इस खेल में सफलता प्राप्त होते हैं।

इस गेम को जीतने के लिए आपको ऐसी सिचुएशन बनानी पड़ती है कि सामने वाला व्यक्ति अपने राजा को बचाने में असमर्थ हो जाए जिसके बाद आप आसानी से इस खेल को जीत सकते हैं। तो चलिए फिर यदि आपभी इस खेल को सीखने में रुचि रखते हैं और खेलना चाहते हैं तो हमारे साले को अंत तक जरूर पड़े क्योंकि सबसे पहले इस गेम को सीखने के लिए आपको इसे समझने की जरूरत है।

शतरंज कैसे खेलें

Chess Kya Hoti Hai

तो सबसे पहले हम आपको आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि शतरंज खेल एक इंडोर गेम है जिसे कोई भी व्यक्ति औरत या फिर बच्चे खेल सकते हैं। इस गेम में खेलने वाले के साथ साथ देखने वाले लोगों को भी बहुत मजा आता है। इस गेम को खेलने के लिए कोई उम्र की सीमा नहीं होती है। यह खेल 2 व्यक्तियों के बीच होता है जिसमें किसी एक की हार तय होती हैं। इस खेल की शुरुआत लगभग 16 वीं शताब्दी में इटली में हुई थी। जिसके बाद धीरे-धीरे इस गेम में काफी सारे बदलाव किया गए। और आज के समय में यह सबसे ज्यादा रोमांचक खेल बन चुका है।

  • शतरंज का जो चेस बोर्ड होता है उसमें 64 ब्लॉक जो सफेद और काले रंग के होते हैं।
  • हर खिलाड़ी के पास 16 पीस होते हैं जिसमें से एक खिलाड़ी के पास सफेद 16 पीस होते हैं तो दूसरे के पास काले 16 पीस होते हैं।
  • दोनों खिलाड़ियों के पास इन 16 देशों में 1 राजा, 1 रानी, 2 हाथी, 2 घोड़े, 2 ऊंट और 8 प्यादे होते हैं।
  • इस खेल का यही उद्देश्य होता है कि सामने वाले खिलाड़ी को कैसे शह और मात दी जाए। शह ओर मात सामने वाले खिलाड़ी को तक की जाती है जब राजा की जगह पर किसी दूसरे मोरे द्वारा कब्जा कर लिया जाता है।
Chess Kaise Khele

How To Play Chess

शतरंज खेलते समय हर एक चाल बहुत ध्यान से चली जाती है क्योंकि हमारे एक गलत कदम से हमारी हार तय होती हैं इसलिए बहुत ही सोच समझ कर इस गेम को खेला जाता है।

शतरंज कैसे खेलें

राजा

सबसे पहले हम आपको इस गेम के सबसे महत्वपूर्ण और जिसे बचाने के लिए गेम की शुरुआत की जाती है उसके बारे में और वह है राजा। लेकिन इतना इंपॉर्टेंट होने के बाद भी राजा सबसे ज्यादा वीक होता है क्योंकि राजा सिर्फ एक ही कदम किसी भी दिशा में ऊपर नीचे दाएं बाएं या फिर तिरछा चल सकता है।

शतरंज का राजा

रानी

अब बात करते हैं रानी की जिसे वजीर भी कहा जाता है और यह इस खेल में सबसे ज्यादा ताकतवर होती हैं। आप किसी भी दिशा में तिरछा, सीधा, आगे, पीछे जितने भी वर्ग चाहे चला सकते हैं।

शतरंज का रानी

हाथी

अब इस खेल में तीसरे नंबर पर आता है हाथी। जिसे आप अपनी इच्छा अनुसार कितना भी वर्ग चला सकते हैं लेकिन यह सिर्फ खड़ा या आड़ा ही चलता है। दोनों खिलाड़ियों के पास दो हाथी होते हैं जो बहुत ताकतवर होते हैं और यह दोनों हाथी एक दूसरे की रक्षा भी करते हैं।

शतरंज का हाथी

ऊँठ

इस खेल में ऊंट केवल तिरछा ही चलता है दोनों ऊंट मिलकर काम करते हैं और अपनी इच्छा अनुसार उठ भी इतने ही वर्ग चल सकता है ऊंट अपनी कमजोरी मिलकर काम करने के साथ-साथ ढक लेते हैं।

chess kaise khele

घोड़ा

घोड़ा जो इस खेल में किसी भी दिशा में केवल ढाई घर चलता है और घोड़े की चाल बा की सारी मोहरों से बहुत अलग होती है। यह एक ऐसा पीस है जो किसी भी दूसरे पीस के ऊपर से चल सकता है।

chess

प्यादा

प्यादा जोकि दोनों खिलाड़ियों के पास 8-8 की संख्या में होते हैं। लेकिन यह किसी भी अन्य पीस को तिरछी साइड में मारते हैं। यह केवल एक ही बार चलता है। ध्यान देने वाली बात यह है कि पहली चाल में प्यादा 2 वर्ग में चल सकता है और यह पीछे की और नहीं चल सकता और ना ही मार सकता है। प्यादे के पास ऐसा अधिकार होता है जहां पर यह चलते-चलते बोर्ड की दूसरी साइड पहुंच जाता है तो इसकी दूसरी कोई भी गोटी बन जाती है जिसे प्रमोशन कहते हैं।

शतरंज के नियम

शतरंज के नियम

  • राजा अपने बचाव के लिये कैसलिंग प्रक्रिया कर सकता है। इस में राजा को check लगा नहीं होना चाहिये और दोनों कोनो पर स्थित हाथी अपनी जगह पर होने चाहिए। कैसलिंग करने पर हाथी कोने से दूसरी या तीसरी जगह पर आ जाता है और राजा उसके पास आ जाता है।
  • कैसलिंग के लिए ये बातें होना जरुरी है
  • कैसलिंग राजा द्वारा एक ही बार कर सकते है।
  • राजा की ये पहली चाल होनी चाहिए।
  • हाथी की ये पहली चाल होनी चाहिए।
  • राजा और हाथी के बीच कोई भी पीस नहीं होनी चाहिए।
  • राजा के उपर शह या मात नहीं होना चाहिए।
  • शह और मात – जब राजा पर सब तरफ से शह हो जाती है, और राजा उससे नहीं बच पाता है, उसे शह और मात कहते है। शह और मात से निकलने के तरीके –
  • उस जगह से राजा हट जाये।
  • चेक के बीच में दूसरी गोटी ले आयें।
  • उस गोटी को मार दें।
  • अगर राजा शह और मात से नहीं बच पाता तो वहीँ गेम ख़त्म हो जाता है।
  • ड्रा- अगर आप शतरंज खेल रहे हैं और उसमें कोई जीत नहीं रहा है तो ऐसी स्थिति में खेल को ब्लॉक कर दिया जाता है।
  • खेल ड्रॉ होने का पांच मुख्य कारण हो सकते हैं-
  • दोनों खिलाड़ी आपसी सहमति से खेल बंद कर सकते हैं।
  • अगर चेस बोर्ड पर शह और मात के लिए कोई गोटी ही ना बची हो।
  • जब लगातार तीन बार एक ऐसी सिचुएशन बन जाए तो खिलाड़ी सिचुएशन में खेल को ड्रा कर सकता है।
  • अगर कोई खिलाड़ी चाल चलता है, लेकिन उसके राजा को शह और मात नहीं है, लेकिन इसके बावजूद उसके पास कोई और चाल चलने के लिए जगह नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here