Computer या Laptop की Speed कैसे बढ़ाएं?

0
200

कंप्यूटर या लैपटॉप क्या होता है | Laptop Ki Speed Kaise Badhaye | कंप्यूटर या लैपटॉप की स्पीड बढ़ाने के तरीके क्या है | कंप्यूटर की स्पीड कितनी होती है

दोस्तों आज हम आपको कंप्यूटर लैपटॉप की स्पीड कैसे बढ़ाएं इसके बारे में बता रहे हैं आज के आधुनिक युग में हर काम इंटरनेट और लैपटॉप की सहायता से किया जा रहा है और अधिकतर सरकारी काम भी ऑनलाइ कंप्यूटर के द्वारा ही किए जाते हैं और हर क्षेत्र में कंप्यूटर की मांग बढ़ रही है कोई सा भी क्षेत्र हो हॉस्पिटल, बैंक, ऑफिस और कॉर्पोरेट जगत हर जगह कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जाता है। दोस्तो आप भी कंप्यूटर का इस्तेमाल करते होंगे लेकिन क्या आपको कंप्यूटर की स्पीड हल्की हो गई है क्या आपका कंप्यूटर सिलो काम करता है और आपका लैपटॉप या कंप्यूटर हैंग हो जाता है तो आज हम इन्ही परेशानियों को दूर करने का तरीका बताएंगे कि आप अपने कंप्यूटर की स्पीड कैसे फास्ट कर सकते हैं और उसके परफॉर्मेंस को कैसे इंप्रूव कर सकते हैं यह सब जानकारी हम आज आपको दे रहे हैं।

कंप्यूटर या लैपटॉप की स्पीड बढ़ाने के तरीके

जब आप अपने कंप्यूटर या लैपटॉप पर कोई काम करने बैठते हैं तो बहुत स्लो कार्य करता है वह बहुत देर में खुलता है और जब हम कोई फाइल या सॉफ्टवेयर खोलते हैं तो बहुत देर में खुलता है और हैंग हो जाता है इसके कुछ कारण होते है यही हम आज आपको बताएंगे कि आपका कंप्यूटर क्यों स्लो हो जाता है कंप्यूटर की स्पीड को सुधारने के लिए हम यहां पर आपको कुछ उपाय बता रहे हैं जो निम्नलिखित हैं।

इंस्टॉल एंटीवायरस

आप अपने कंप्यूटर में एंटीवायरस सॉफ्टवेयर जरूर डाउनलोड करें और एंटीवायरस सॉफ्टवेयर ओरिजिनल ले जो पैड होता है और किसी अच्छी कंपनी का हो क्यों कभी-कभी वायरस आ जाने से भी कंप्यूटर स्लो कार्य करने लगता है एक समय में एक ही एंटीवायरस का उपयोग करें एक से ज्यादा एंटीवायरस सॉफ्टवेयर होने से भी आपका कंप्यूटर स्लो कार्य कर सकता है। अगर आपके पास window10 है तो आपको किसी एंटीवायरस सॉफ्टवेयर की जरूरत नहीं है यह काम आपका विंडो डिफेंडर सॉफ्टवेयर ही करता है और उसे अपडेट करते रहना पड़ता है।

कंप्यूटर की स्पीड

अनावश्यक सॉफ्टवेयर और गेम को अनइंस्टॉल करना

जो सॉफ्टवेयर आप इस्तेमाल नहीं करते उन्हें अनइंस्टॉल कर देना चाहिए और बहुत से गेम ऐसे होते हैं जो हम कभी नहीं खेलते मगर इंस्टॉल करके छोड़ देते हैं इससे भी हार्ड डिस्क   में काफी जगह भर जाती है इसकी वजह से हमारे कंप्यूटर स्लो और हैंग होने लगता है इस लिए हमें समय-समय पर फालतू चीजों को डिलीट या अनइंसटाल करते रहना चाहिए जब हार्ड डिस्क में स्पेस बढ़ जाता है तो कंप्यूटर की स्पीड अपने आप फास्ट हो जाती है।

टेम्परेरी फाइल्स डिलीट करना

दोस्तों जब आप जब हम अपने कंप्यूटर पर कोई कार्य करते हैं और कोई सॉफ्टवेयर चलाते हैं तो उसमें टेंपरेरी फाइल जनरेट हो जाती हैं हार्ड डिस्क जिसमें टेंपरेरी फाइल्स का एक फोल्डर होता है हमें समय-समय पर इसको डिलीट करते रहना चाहिए इन फाइलों को डिलीट करने से कंप्यूटर की स्पीड तेज हो जाती है। टेंपरेरी फाइल्स हार्ड इसमें काफी जगह घेर लेती है। जिससे कंप्यूटर की स्पीड कम हो जाती है और वह स्लो कार्य करने लगता है इसलिए समय-समय पर हमें हार्ड डिस्क को क्लीनअप करते रहना चाहिए।

डेस्कटॉप स्क्रीन क्लीन रखना

डेक्सटॉप स्क्रीन को समय-समय पर क्लीन करते रहना चाहिए जो सॉफ्टवेयर फाइल फोल्डर आपके काम में नहीं आ रहे हैं तो उन्हें अनइनस्टॉलर या डिलीट कर देना चाहिए इससे भी कम्प्यूटर की स्पीड पर बहुत फर्क पड़ता है इस डेक्सटॉप स्क्रीन को ही मेन स्क्रीन कहा जाता है इसी स्क्रीन पर हम अपनी फाइल सॉफ्टवेयर या एप का शॉर्टकट रखते हैं इसमें ज्यादा आईकॉन होने की वजह से भी स्पीड पर फर्क पड़ता है और हमारा कंप्यूटर स्लो कार्य करता है इसे भी समय-समय पर क्लीनअप करते रहें।

रिसाइकिल बिन खाली करना 

रीसाइकिल बिन क्या होता है और उसे कैसे खाली करते हैं

अपने लैपटॉप पर कुछ फाइल्स वीडियो फोटो वगैरा डिलीट करते हैं तो वह सब रीसाइकिल बिन में चला जाता है जब तक हम रीसायकल बिन को एम्पटी नहीं करते जब रीसाइकिल बिन का डाटा हार्ड डिस्क में  स्पेस घेरता है। इसलिए हमें समय-समय पर रीसाइकिल बिन को खाली करते रहना चाहिए। हम डायरेक्ट भी डिलीट कर सकते हैं लेकिन कभी-कभी ऐसा होता है कि डिलीट करने के बाद हम लगता हैं कि हमें यह डिलीट नहीं करना चाहिए था इसलिए रीसाइकिल बिन में एक ऑप्शन होता है कि जो  कुछ डिलीट हो गया है  तो हम उसे रिसाइकिल बिन से वापस ला सकते हैं इसलिए डायरेक्ट डिलीट नहीं करना चाहिए।

तो दोस्तों हमने जो आपको तरीके बताए हैं उनको करके आप अपने लैपटॉप कंप्यूटर की स्पीड को तेज कर सकते हो।

अनवांटेड स्टार्टअप प्रोग्राम डिसएबल करे

जब भी हम अपने लैपटॉप या कंप्यूटर को ऑन करते हैं तो उसे ऑन करते ही बहुत सारे सिस्टम है अपने आप चालू हो जाते हैं और बैकग्राउंड में चलते रहते हैं तो इस वजह से भी हमारा लैपटॉप यह कंप्यूटर सिस्टम धीरे चलने लगता है। यदि आप अपने कंप्यूटर या लैपटॉप की स्पीड करना चाहते हैं तो उन सारे ऐप्स को डिसेबल कर सकते हैं इसके लिए आपको हमारे द्वारा बताए गए कुछ आसान से टिप्स को फॉलो करना होगा।

  •  Ctrl + alt + delete > task manager>startup इसके बाद आप यहाँ से उन सारे एप्स को डिसएबल कर सकते है।
  • अब आपको राईट क्लिक करना है।
  •  एप्स पे फिर डिसएबल पे क्लिक करना है।
  • इंपोर्टेंट नोट– यहां पर आपको एंटीवायरस और किसी भी तरह का माइक्रोसॉफ्ट नाम का सॉफ्टवेर डिसएबल नहीं करना।

सिस्टम परफॉरमेंस सही चुने

विंडोज में आपको सिस्टम परफॉरमेंस आप्शन दिया हुआ है जिसकी मदद से आप अपने कंप्यूटर में परफॉरमेंस को और ज्यादा बेहतर बना सकते है। तो इसके लिए सबसे पहले Control panel > system > advanced system settings > settings >adjust for best performance

Clean C Drive

अपने कंप्यूटर की सी ड्राइव को हमेशा फ्री रखें, और इसमें कोई भी फालतू का डाटा स्टोर ना करें। सी ड्राइव को क्लीन करने के लिए हम आपको कुछ आसान से स्टेप को फॉलो करना है।

  • सबसे पहले C ड्राइव पर राइट क्लिक करके प्रॉपर्टीज में जाए।
  • अब जनरल टैप पर क्लिक करे और डेस्क क्लीनअप पर क्लिक करें।
  • अब कुछ टाइम की प्रोसेस होने के बाद आपके सामने ऑल टाइम फाइल शो हो जाएंगे और ओके पर क्लिक करें।

Computer Hardware Check करें?

कंप्यूटर या लैपटॉप में हार्डवेयर चेंज करना बहुत जरूरी होता है क्योंकि यह ओल्ड कंप्यूटर की स्पीड स्लो होने की सबसे बड़ी वजह हो सकती है। ऐसा करके आप अपने कंप्यूटर सिस्टम की रैम इनक्रीस करा सकते हैं। आप इसकी के बिल भी चेंज करा सकते हैं क्योंकि कभी कबार सिस्टम में पोर्ट काम करना बंद करने की वजह से कंप्यूटर की स्पीड बार-बार स्लो होती रहती है जिसके लिए आपको हार्डवेयर चेक कराने की जरूरत पड़ सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here