कंप्यूटर नेटवर्क क्या होता है- Computer Network कितने प्रकार के होते है जाने हिंदी में

Computer Network Kya Hota Hai | कंप्यूटर नेटवर्क क्या होता है | कंप्यूटर नेटवर्क कितने प्रकार के होते है | Advantages Of Computer Network

सालों पहले जब Computer का आविष्कार नहीं हुआ था तो लोगों को अपने संदेश एक जगह से दूसरी जहां पहुंचाने में काफी दिक्कत होती थी और समय भी बहुत बर्बाद होता था जिससे लोगों में काफी परिस्थितियों से गुजरना पड़ता था परंतु कंप्यूटर के अविष्कार के बाद धीरे धीरे सुविधाएं लोगों तक पहुंचने लगी और सभी प्रकार के कार्य आसानी से होने लगे इसका मुख्य कारण था Computer network होना। जिसके माध्यम से संदेशों को शीघ्र ही यहां से वहां आसानी से पहुंचाया जा सकता था। आज हम इस लेख के माध्यम से आपको कंप्यूटर नेटवर्क से संबंधित सभी जानकारियां देंगे और यह भी बताएंगे की Computer Network Kya Hota Hai यह किस प्रकार कार्य करता है तथा यह कितने प्रकार के होते हैं इससे संबंधित जानकारियां पाने के लिए इस लेख से जुड़े रहिए।

Computer Network Kya Hota Hai

किसी भी दो प्रकार के device को जब आपस में कनेक्ट करते हैं तथा उनसे संबंधित डाटा को आदान प्रदान करते हैं तो ऐसी प्रक्रिया को Computer network कहते हैं यह कई तरह से कार्य करती हैं जैसे कंप्यूटर की मात्रा मोबाइल के माध्यम से SERVER आदि के माध्यम से। NETWORK को इस्तेमाल करने के लिए हमें wire अथवा wireless technology के माध्यम से जोड़ा जाता है जिससे विशेष तौर पर कार्य करता है। यह एक प्रकार का Data transfer network प्रणाली भी कहलाता है।जिसमें एक से अधिक कंप्यूटर डिवाइस से जोड़कर कार्य करते हैं या फिर आसान भाषा में अगर कहें कंप्यूटर डिवाइसेज एक दूसरे के माध्यम से डाटा को शेयर करते हैं।तो वह प्रणाली कंप्यूटर नेटवर्क प्रणाली कहलाती है। यह software तथा hardware के मिश्रण से बनी नेटवर्क प्रणाली होती है।

कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार एवम उनसे संबंधित जानकारी

यदि हम Computer network के प्रकार की बात करें कई प्रकार के होते हैं।जो अपने अलग-अलग क्षेत्रों में अपने हिसाब से कार्य करते हैं। कोई एक जगह बैठे छोटे से कंप्यूटर से लेकर Super computer तक के प्रकार को मैनेज करते हैं। आज हम इन्हीं के बारे में विस्तृत जानकारी आपको मुहैया कराएंगे जोकि निम्नलिखित है।

1.Local Area Network (LAN)

यह एक प्रकार का local computer networking कहलाता है। जैसा कि आपको नाम से ही पता चल रहा होगा या छोटे लेवल पर या फिर छोटे डिस्टेंस में उपयुक्त होने वाली नेटवर्क डिवाइस को कनेक्ट करता है। इसका इस्तेमाल हम स्कूलों दफ्तरों घर पर छोटे-छोटे कंपनियों में होता है। सीधी भाषा में या shorts distance network डिवाइस को कनेक्ट करने के काम आता है।

2.Metropolitan Area Network (MAN)

इसका नेटवर्क शेयरिंग LAN से अधिक होता है। यह एक शहर से दूसरे शहर को जोड़ने का कार्य करता है। इसके माध्यम से यदि कोई कंपनी एक शहर में है तथा उसी की ब्रांच दूसरे शहर में है तो यह अपने डिवाइस के माध्यम से उन दोनों को आपस में data sharing करता है और इसका Range में भी अधिक होता है।

3.Wireless Local Area Network (WLAN)

जैसा किसके नाम से ही प्रतीत हो रहा है कि यह बिना wire के यूज होने वाला नेटवर्क प्रणाली है। इसके माध्यम से हम wifi के जरिए एक डिवाइस के दूसरे डिवाइस से जोड़ सकते हैं।यह LAN की तरह ही कार्य करता है परंतु इसमें wire नहीं होते हैं या Satellite wave के द्वारा कार्य करने वाली प्रणाली है।

4.Campus Area Network (CAN)

यह एक प्रकार का Multiple local area network के माध्यम से लिमिटेड एरिया में कनेक्ट होता है। जो लिमिटेड एरिया को कवर करता है। इसका उपयोग Offices, School,Colleges में किया जाता है।यह Corporate area network के नाम से भी जाना जाता है। यह सीधे शब्दों में कहें तो यह एक तरह का प्राइवेट नेटवर्क होता है।

5.Storage Area Network (SAN)

यह नेटवर्क प्रणाली एक प्रकार की High speed transfer प्रणाली कहलाती है इसके माध्यम से किसी भी डाटा को एक जगह से दूसरी जगह भेजने के लिए किया जाता है जोकि बहुत जल्द ही कार्य को संपन्न कर देती है Multiple server device के द्वारा एक्सेस किया जाता है इस माध्यम से कभी डिवाइसों पर एक बार में ही डाटा ट्रांसफर हो जाते हैं।

6.Personal Area Network (PAN)

जैसा के आपको के नाम से ही मालूम पड़ रहा होगा कि यह एक प्रकार का Personal एवं Private network प्रणाली है। इसके माध्यम से किसी निजी Mobiles, Computers,tablets आदि के डाटा को एक जगह से दूसरे डिवाइस पर शेयर किया जाता है। जो कि बहुत ही आसानी से हो जाता है।इसमें Radio satellite wave का इस्तेमाल किया जाता है इसके मुख्य उदाहरण आपको Bluetooth पता चलता है।

7.Wide Area Network (WAN)

WAN का data sharing एरिया बहुत अधिक होता है।इसका उपयोग किसी एक शहर से दूसरे शहर या फिर किसी एक देश से दूसरे देश में Data transfer की सुविधा को आसान करने के लिए किया जाता है। इसका Range काफी अधिक होता है यह अपने से मिलने जुलने वाले सभी नेटवर्क को एक बार में ही connect कर देता है। इसका मुख्य उदाहरण आपके सामने इंटरनेट मौजूद है जिसके द्वारा आप कहीं भी कुछ भी पूरे विश्व की जानकारी एकत्रित कर सकते हैं।

Leave a comment