इलेक्ट्रिक वाहन क्या है- What Is Electric Vehicle, जाने फायदे, प्रभाव व आयु

What Is Electric Vehicle और इलेक्ट्रिक वाहन कैसे कार्य करता है एवं इसके फायदे, प्रभाव व आयु जाने सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

देश में बढ़ते हुए पेट्रोल डीजल की कीमत और वायु प्रदूषण को देखते हुए अब सरकार ने BS-6 वाहनों को प्राथमिकता देने के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों का निर्माण करवा रही है क्योंकि वायु प्रदूषण के कारण से अनेकों बीमारियों ने लोगों को नुकसान पहुंचाने का कार्य किया है। पेट्रोल,डीजल वाहनों से निकलने वाले धुएं के कारण वातावरण काफी जहरीला हो जाता है इन्हीं सब परिस्थितियों को देखकर Electric Vehicle का निर्माण किया जा रहा है इसके साथ ही साथ देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीद पर मुफ्त बीमा एवं Registration की भी सुविधा प्रदान की जाती है तो आज इस लेख के माध्यम से हम आपको Electric Vehicle से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां मुहैया कराएंगे।

Electric Vehicle Kya Hai?

Electric Vehicle एक प्रकार का इलेक्ट्रिक मोटर के द्वारा संचालित किया जाता है और इसके अंतर्गत जिस मोटर का प्रयोग किया जाता है उसको ऊर्जा बैटरी के द्वारा प्रदान किया जाती है और वाहन को चलाने में किसी भी प्रकार की इंधन जैसे पेट्रोल डीजल आदि की आवश्यकता नहीं पड़ती है इलेक्ट्रिक वाहन की सबसे खास बात ये है की इसके द्वारा वातावरण में बहुत ही कम मात्रा में प्रदूषण होता है जो की सेहत को नुकसान नहीं पहुंचाता है वर्तमान समय में भारत में बीएस-6 वाहनों को बाजार में बेचा जा रहा है जोकि इलेक्ट्रिक तरीके से व्यवस्थित किए जा चुके हैं वाहनों के आयात पर देश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूत बनाया जा सकता है यह एक प्रकार का चार्जेबल बैटरी रहित वाहन है जो सड़कों पर इंधन वाहनों से बेहतर साबित हो रहा है।

Electric Vehicle

Vehicle/Bike सेल लेटर फॉर्मेट

Electric Vehicle से संबंधित कुछ जानकारी

वाहन प्रकारElectric Vehicle
वर्जनBS-6
फायदापर्यावरण प्रदूषण को कम करता है
भारत में शुरुवात2020 से
ईंधन Chargeable Battery Type
अनुदानलगभग 1.5 लाख रुपए

Electric Vehicle को लाने का उद्देश्य

वर्तमान समय में देश में Petrol,Diesel के दाम आसमान छू रहे हैं ऐसे में बहुत से लोगों को इस महंगाई में इंधन का प्रयोग करना काफी महंगा साबित हो रहा है इसके साथ ही साथ देश में अत्यधिक मात्रा में वायु प्रदूषण भी फैला है और विश्व में भारत के बहुत से शहर ऐसे चिन्हित किए गए हैं जो प्रदूषण के मामले में काफी आगे हैं इन्हीं सब परिस्थितियों को देखकर भारत सरकार ने BS-6 वाहन जोकि इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के तौर पर इस्तेमाल किए जाते हैं उनका चलन बढ़ाने के लिए कंपनियों को चार्जेबल वाहन का निर्माण करने का आदेश दिया है जिससे अब कम मात्रा में प्रदूषण होगा और नागरिक पेट्रोल डीजल के दामों से भी बच सकेंगे।

Electric Vehicle

Electric Vehicle के आने से क्या फायदा है?

  • बढ़े हुए पेट्रोल डीजल के दामों से निजात मिलेगी
  • इलेक्ट्रिक वाहनों के द्वारा कम वायु प्रदूषण होगा
  • वाहनों में इस्तेमाल किए जाने वाले इंधन के धुएं से होने वाले स्वास्थ्य की बीमारी दमा और अन्य रोगों से बचाव किया जा सकेगा
  • Electric Vehicle ईंधन वाले वाहनों की अपेक्षा सस्ते होंगे जोकि अन्य नागरिक भी आसानी से फोर व्हीलर खरीद सकेगा
  • भारत में वर्तमान समय में इलेक्ट्रिक वाहनों को BS-6 Version में लांच किया जा रहा है जो कि बिल्कुल ना के बराबर प्रदूषण को फैलाता है
  • इलेक्ट्रिक वाहनों पर आरटीओ के माध्यम से रजिस्ट्रेशन मुफ्त में किया जाएगा जिसके द्वारा पैसों की बचत भी होगी।

Electric Vehicle की खरीद पर छूट

भारत सरकार ने देश में वर्ष 2030 तक Automobile Sector में इलेक्ट्रिक वाहनों की 30% तक बिक्री को ले जाने का लक्ष्य रखा है और Electric Vehicle को खरीदने के लिए प्रोत्साहित करने हेतु अनुदान देने की भी योजना बनाई गई है यदि कोई व्यक्ति के द्वारा इलेक्ट्रिक टू व्हीलर या थ्री व्हीलर खरीदा जाता है तो उसे लगभग ₹30000 तक का अनुदान प्रदान किया जाएगा और इसके साथ ही साथ फोर व्हीलर की खरीद पर लगभग डेढ़ लाख रुपए तक का अनुदान देने का कार्य किया जाएगा और भारत सरकार ने वाहनों के रजिस्ट्रेशन कराने के लिए मुफ्त रजिस्ट्रेशन की सुविधा भी प्रदान की है जिसके लिए नागरिक को किसी भी प्रकार का कोई शुल्क देने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

Electric Vehicle कैसे कार्य करता है?

किसी भी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को चलाने के लिए सबसे पहले बैटरी को Full Charge करना आवश्यक होता है उसके लिए आपको Electric Power Source में Plug को लगाकर Battery Charge करना पड़ेगा जिसके बाद जो अन्य सहायक बैटरी है वह कार की एसेसरीज को पावर देने का काम करती है जिससे गाड़ी के अंदर सभी पार्ट्स अच्छे प्रकार से कार्य करने लगते हैं और इसी के बाद पहिए के अंदर चलने की क्षमता बढ़ती है जो कि आप सड़कों पर इसे आसानी से चला सकते हैं Electric Vehicle को चलाना काफी आसान होता है और इसे बस चार्ज करके आसानी से चलाया जा सकता है वर्तमान समय में बहुत सी ऐसी बेहतरीन इलेक्ट्रिक व्हीकल जो कि कम से कम 30 मिनट से लेकर अधिकतम 8 घंटे तक चार्ज होते हैं और 100 किलोमीटर से 400 किलोमीटर तक एक बार में चलाए जा सकते हैं।

Electric Vehicle की आयु कितनी होती है?

यदि इलेक्ट्रिक व्हीकल की आयु की बात करें तो विभिन्न कार कंपनियां अपनी अलग-अलग वाहनों को अलग-अलग पैमाने पर निर्माण करती हैं परंतु यदि सामान्य तौर पर देखा जाए तो एक इलेक्ट्रिक कार की बैटरी की आयु न्यूनतम 8 वर्ष या लगभग डेढ़ लाख किलोमीटर तक की होती है जो कि एक अच्छी आयु मानी जाती है और इस Electric Vehicle में आधुनिक बैटरी जोकि लिथियम आयन बैटरी का इस्तेमाल किया जाता है और यह एक अच्छा चार्जिंग बैकअप प्रदान करती है।

Leave a comment