REET क्या है-रीट एग्जाम योग्यता (Reet Full Form) एग्जाम पैटर्न की जानकारी हिंदी में

REET Kya Hai और इसकी फुल फॉर्म क्या होती है एवं एग्जाम देने का पैटर्न क्या है व परीक्षा के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए सभी जानकारी हिंदी में

यदि आप राजस्थान राज्य के निवासी हैं और शिक्षक भर्ती चाहते हैं तो आपको उसके लिए सबसे पहले रीट का एग्जाम देना होगा। रीट परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने के बाद आपको राजस्थान में शिक्षकों की भर्ती प्रदान की जाएगी। आज हम आपको अपने REET क्या है? से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे। यदि आप भी रीट एग्जाम से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि हमारे इस लेख को अंत तक विस्तार पूर्वक पढ़ें।

REET Kya Hai?

यह एक प्रकार की परीक्षा है जो राजस्थान राज्य में तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्तियों के लिए दिया जाता है। यदि कोई भी थर्ड ग्रेड टीचर बनना चाहता है तो उसके लिए सबसे पहले व्यक्ति को रीट का एग्जाम क्लियर करना होगा। REET Exam में अच्छे अंक प्राप्त करने के बाद ही लोगों को शिक्षकों की भर्ती मुहैया कराई जाती है। राजस्थान में रीट की परीक्षा नोडल एजेंसी राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर के द्वारा आयोजित की जाती है। ‌ परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के बाद व्यक्तियों को एक सर्टिफिकेट दिया जाता है जो 3 साल के लिए वैध माना जाता है।

REET

रीट की फुल फॉर्म क्या है?

REET की अंग्रेजी व हिंदी में कुछ इस प्रकार है:-

  • REET- Rajasthan eligibility exam for teachers.
  • रीट- राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा

रीट परीक्षा के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

यदि आप भी राजस्थान में एक अच्छा शिक्षक बनना चाहते हैं और नीट परीक्षा देना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले बीएसटीसी डीएलएड और b.ed जैसी शिक्षक परीक्षण डिग्री प्राप्त करनी होगी। इस परीक्षा के लिए योग्य उम्मीदवारों को ही आयोजन किया जाता है। प्राथमिक कक्षाएं जैसे एक से पांच तक अध्ययन करने वाले शिक्षकों को लेवल वन कहा जाता है। तथा उच्च प्राथमिक कक्षाओं को अध्ययन करने वाले शिक्षकों को level-2 के नाम से जाना जाता है। पदों के अनुसार ही रीड में सम्मिलित होने होने वाले उम्मीदवारों की योग्यता निर्धारित की गई है।

REET  Kya Hai

REET Exam के लिए शैक्षिक योग्यता क्या होनी चाहिए?

Level- 1

  • व्यक्ति द्वारा उच्चतर माध्यमिक परीक्षा में प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं एवं प्रारंभिक शिक्षा में 2 वर्षीय डिप्लोमा प्राप्त किया हो।
  • एनसीटीई के अनुसार उच्चतर माध्यमिक परीक्षा में 45% अंक प्राप्त किए हैं एवं प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र में 2 वर्षीय डिप्लोमा प्राप्त किया हो।
  • उच्चतर माध्यमिक मैं लगभग 50% अंक प्राप्त किए हुए एवं विशेष शिक्षा में 2 वर्षीय डिप्लोमा हासिल किया हो।
  • उच्चतर माध्यमिक शिक्षा में लगभग 50% अंक प्राप्त किए हैं 4 वर्षीय शिक्षा शास्त्र में डिप्लोमा प्राप्त किया हो
  • स्नातक एवं प्रारंभिक शिक्षा में 2 वर्ष का डिप्लोमा प्राप्त किया हो।

Level- 2

  • स्नातक पूरा किया हो एवं प्रारंभिक शिक्षा में 2 वर्ड्स डिप्लोमा प्राप्त किया हो।
  • स्नातक में 50% अंक प्राप्त किए हुए एवं 1 वर्षीय शिक्षा स्नातक किया 2 वर्षीय शिक्षक स्नातक शास्त्र सर्टिफिकेट प्राप्त किया हो।
  • स्नातक में 45% अंक प्राप्त किए हुए एवं 1 वर्षीय स्नातक b.ed डिप्लोमा प्राप्त किया हो।
  • उच्चतर माध्यमिक शिक्षा में 50% अंक प्राप्त किए हुए एवं 4 वर्षीय प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र स्नातक प्राप्त किया हो।
  • स्नातक में 50% अंक प्राप्त किए हैं एवं 1 वर्षीय विशेष शिक्षा में बीएड प्राप्त किया हो।
  • 50% अंक में उच्चतर माध्यमिक तथा 4 वर्षीय स्नातक और बीएड या बीएससी एड प्राप्त किया हो।
रीट एग्जाम

रीट एग्जाम देने का पैटर्न क्या है?

रीट एग्जाम देने के लिए अभ्यर्थियों को प्रथम तीन खंड देना अनिवार्य है। प्रश्न पत्र में लगभग 150 अंक का एवं ढाई सौ घंटे का पेपर निर्धारित है।

पाठ्यक्रमप्रश्न संख्याअंक
बाल विकास एवं शिक्षण विधियां3030
भाषा-हिंदी/अंग्रेजी/संस्कृत/उर्दू/सिंधी/पंजाबी/गुजराती3030
भाषा-हिंदी/अंग्रेजी/संस्कृत/उर्दू/सिंधी/पंजाबी/गुजराती3030
गणित(L-1) गणित एवं विज्ञान विषय-(L-2)3030
पर्यावरण अध्ययन(L-1) सामाजिक विज्ञान(L-2)3030
रीट एग्जाम

रीट एग्जाम में कौन सी भाषा का चयन कर सकते हैं?

अगर आप भी रीट की परीक्षा देना चाहते हैं तो आप अपनी पसंदीदा भाषा का चयन कर सकते हैं।

  • रीट का एग्जाम देते समय द्वितीय और तृतीय में भाषा का चयन करना अनिवार्य होता है। ‌ इस श्रेणी में आप अपनी पसंदीदा भाषा का चयन कर सकते हैं।
  • द्वितीय श्रेणी में आपको उस भाषा का चयन करना होता है जो आवेदन पत्र में निर्धारित होती है।
  • तृतीय खंड में आपको वह भाषा चुन्नी होती है जिसमें आप सवाल हल कर सकते हैं ताकि आपके सवाल आसानी से समझ आ जाए और आप उन्हें हल कर सके।
  • व्यक्ति द्वारा दोनों खंडों में एक ही भाषा का चयन भी किया जा सकता है एवं अलग-अलग भाषाओं का भी चयन किया जा सकता है।
Reet

REET Exam के फॉर्म कब आएंगे?

वह सभी इच्छुक व्यक्ति जो रीट के फॉर्म का इंतजार कर रहे हैं उन्हें बता दे कि इस फॉर्म के आने के बारे में जानकारी समाचार द्वारा जारी की जाती है। और इसके साथ ही साथ आप समय-समय पर इंटरनेट के माध्यम से आवेदन पत्र के बारे में जानकारी खोजें। ताकि आप REET Exam के लिए समय से आवेदन कर सकें।

रीट एग्जाम

रीट एग्जामिनेशन के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

राजस्थान राज्य के बाद सभी व्यक्ति जो नीट एग्जामिनेशन के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको बता दें कि आवेदन करने के लिए लाभार्थी की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष होनी चाहिए एवं अधिकतम उम्र 40 वर्ष के भीतर होनी चाहिए। इस एग्जाम के तहत आवेदन के लिए आरक्षित वर्गों को नियमानुसार छूट भी प्रदान की जाती है।

Conclusion

आज हमने आपको इस लेख के माध्यम से REET क्या है-रीट एग्जाम योग्यता (Reet Full Form) एग्जाम पैटर्न आदि से संबंधित संपूर्ण जानकारी स्पष्ट कर दी है। यदि आपको इस विषय से संबंधित कोई भी कठिनाई या मन में कोई भी प्रश्न आता है तो आप हम से नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं आप का कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है। हम जल्द से जल्द आपकी समस्या का समाधान देने का प्रयास करेंगे।

Leave a comment