EPF Withdrawal Rules In Hindi 2022- पीएफ निकालने के नियम क्या है

ईपीएफ क्या है और पीएफ निकालने के नियम क्या है एवं इसकी फुल फॉर्म क्या होती है व EPF Withdrawal Rules 2022 In Hindi

इपीएफ जो है हमें एक प्रकार के कर्मचारी भविष्य निधि निवेश योजना है जोकि जितने भी कर्मचारी हैं उनके रिटायरमेंट के बाद उनकी आवश्यकताओं को पूर्ण करने के लिए व्यवस्थित किया गया है जिस का संचालन सरकार के द्वारा किया जाता है इस योजना के अंतर्गत कई सरकारी और प्राइवेट संस्थाएं आती है जिनमें 20 या उससे अधिक कर्मचारी नियमित रूप से कार्य करते हैं EPF Scheme 1952 के द्वारा सरकार उन कर्मचारियों को आपदा या महामारी घोषित होने पर अग्रिम अनुदान देती है इसके साथ ही साथ कुछ ऐसी विशेष प्रकार की परिस्थितियां पड़ने पर भी कर्मचारी पैसे को निकाल भी सकते हैं हालांकि पैसे निकालने के संबंध में सरकार कुछ नए नियम भी इस में जोड़े हैं।

ईपीएफ (EPF) क्या है

किसी भी सरकारी अथवा निजी संस्थाओं में यदि कोई कर्मचारी नौकरी कर रहा है तो उसके लिए EPF ज्यादा मायने रखती है क्योंकि ये एक प्रकार की बचत योजना है इसके अंतर्गत सभी कर्मचारी प्रतिमाह अपने मूल वेतन में से 10% का योगदान करते रहते हैं हालांकि पहले यह 12% था परंतु कुछ बदलाव करके इसमें 10% कर दिया गया।जमा की गई राशि में से कर्मचारी अपने अकाउंट से नौकरी के इस्तीफे की स्थिती में या फिर रिटायरमेंट की स्थिति में एक हिस्सा पैसों का निकाल भी सकते हैं और इसके साथ ही साथ यदि कोई कर्मचारी एक कंपनी में से दूसरी कंपनी में Join करता है तो उसकी राशि भी दूसरी कंपनी में Transfer कर दी जाती है और इसमें सालाना ब्याज 8.5% की दर से भी प्राप्त होता है और पूर्ण रूप से Retirement के बाद कर्मचारी अपनी पूरी राशि को आसानी से निकाल भी सकते हैं।

EPF Withdrawal

EPF का Full Form क्या है

यदि EPF के अंग्रेजी में फुल फॉर्म की बात की जाए तो इसका पूर्ण नाम Employees Provident Fund होता है और हिंदी में इसे कर्मचारी भविष्य निधि के नाम से जाना जाता है।

पीएफ निकासी नियम क्या है

हाल ही में EPFO  के द्वारा PF खाते से पैसा निकालने के लिए उसके नियमों में कुछ संशोधन किया गया है जिसके माध्यम से ऐसे ग्राहकों को PF Fund आसानी से प्रदान हो जाए जो व्यक्ति कठिनाइयों से जूझ रहे हैं, बनाए गए नए नियमों के अनुसार कोई भी पीएफ खाताधारक मूल वेतन और महंगाई भत्ते के 3 महीने के बराबर की राशि या फिर अपने PF Account में मौजूद शेष राशि का 75% के बराबर पैसा निकाल सकते हैं।जिसे Non Refundable Deposit के तौर पर दिया जा सकता है अब पीएफ खाते में से पैसा निकालने के लिए कर्मचारी Online आवेदन भी कर सकते हैं जो कि आवेदन के तीन कार्य दिवस के अंदर ही उनको धनराशि अपने खाते में प्राप्त हो जाएगी और यदि वह ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो ऐसे में उनकी Payment 20 दिनों के अंदर मिल जाएगी।

पीएफ निकालने के नियम क्या है

पीएफ फंड का पैसा निकालने हेतु नियम

यदि कोई कर्मचारी PF Fund से पैसा निकालना चाहता है तो निम्नलिखित बताए गए नियमों के अनुसार वह निकाल सकता है।

  • यदि किसी कर्मचारी को मेडिकल सेवा घर खरीदना या निर्माण कराना अपने बच्चों हेतु उच्च शिक्षा जैसी स्थिति में पैसों की जरूरत है तो वह ईपीएफ खाते से पैसा निकाल सकता है
  • यदि कोई कर्मचारी अपने रिटायरमेंट से 1 वर्ष पहले EPF में जमा राशि का पैसा निकालना चाहता है तो वह 90% तक राशि निकाल सकता है लेकिन उसके लिए उसकी आयु न्यूनतम 54 वर्ष होनी चाहिए।
  • यदि कोई कर्मचारी की नौकरी छूट गई है वह बेरोजगारी की स्थिति में है तो उसके लिए वह 75% तक की राशि अपने PF Fund में से निकाल सकता है और शेष 25% नए रोजगार प्राप्त करने के बाद उसके नए खाते में ट्रांसफर कर दिया जाएगा।
  • यदि कोई कर्मचारी लगातार 5 वर्षों तक EPF Account में पैसा जमा कर रहा है तो उसे ईपीएफ निकासी टैक्स फ्री योजना का लाभ भी प्रदान किया जाएगा
  • यदि कोई कर्मचारी TDS से बचना चाहता है तो उसे EPF राहत कोष में ₹50000 से कम की राशि पर टीडीएस नहीं लगाया जाएगा और उसके साथ ही वापस भी प्रदान करता है तो लागू टीडीएस दर 10% ही लगेगी अन्यथा या 30% तक से भी अधिक जा सकती है
  • कोई भी कर्मचारी अपने PF से पैसे निकालने के लिए उसे अपने नियोक्ता की स्वीकृति लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी अब वह अपना UAN और Aadhar लिंक करा कर आसानी से ईपीएफ के माध्यम से पैसा निकाल सकता है
  • इपीएफ निकालने के लिए अब Online माध्यम से उसकी जांच की स्थिति भी चेक की जाती है।

ईपीएफ पासबुक कैसे डाउनलोड करें

PF Withdrawal(पीएफ निकासी)Online Process

यदि आप PF Fund की निकासी करना चाहते हैं तो उसके लिए आप Online Process के द्वारा आसानी से राशि को निकाल सकते हैं जिसका तरीका हम आप को निम्नलिखित बताने जा रहे हैं।

EPF Withdrawal
  • इसके बाद आपके सामने एक Homepage खुल कर आ जाएगा इस पर आपको Our Services के विकल्प पर Click करना होगा।
  • फिर उसके बाद आपके सामने कई प्रकार के Option आएंगे जिसमें आप को For Employees के Option पर Click कर देना होगा।
EPF Withdrawal
  • अब फिर से आपके सामने एक नया पेज ओपन होकर आ जाएगा जहां पर आपको Member UAN/Online Service (OCS/OTCP) के Option पर Click कर देना होगा।
पीएफ निकालने के नियम
  • अब आपके सामने एक Web Page ओपन होगा रहेगा जिसमें आपको UAN Number, Password, Captcha Code डालकर Login करना होगा
  • जहां पर आपको Manage Tab के विकल्प पर Click करके KYC के Button पर Tap करना होगा
  • आपके सामने KYC से संबंधित विवरण आ जाएगा जिसे आप अच्छी तरीके से जांच कर लें
  • उसके बाद आपको Online Services के विकल्प पर Click कर देना होगा तथा उसके बाद Drop Down Menu में Claim के Option पर Click करना होगा।
  •  पर आपको अपना पंजीकृत Bank Account Number के रूप में अंतिम चार अंक दर्ज करना होगा
  • बैंक खाते के सत्यापन के बाद Certificate of Undertaking Generate हो जाएगा जहां पर आपको “Yes” के विकल्प पर Click कर देना होगा तथा उसके बाद ही आपके सामने “Proceed For Online Claim” का विकल्प आएगा जिस पर आपको Click कर देना होगा।
  • अब आपको Dropdown-Menu से PF Advance( Form-31) का विकल्प चुनना होगा
  • अंत में आपको Drop Down के विकल्प में Check Box पर Click करके अपना आवेदन जमा कर देना होगा।
  • अतः इस प्रकार से आप आसानी से पीएफ अकाउंट में से Online प्रक्रिया से पैसे निकाल सकते हैं
  •  

Leave a comment