फास्टैग (What Is Fastag) क्या होता है और फास्टैग कैसे बनाये आसान तरीका हिंदी में

फास्टैग क्या होता है और Fastag कैसे बनाये एवं इसे बनाने का आसान तरीका क्या है व यह किस प्रकार कार्य करता है जाने सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

जैसा कि आपको पता है कि हमारी हमेशा से यह कोशिश रहती है कि आपको भिन्न-भिन्न आर्टिकलो के द्वारा सही एवं सटीक जानकारियां मुहैया कराई जा सके इसलिए आज हम बात करेंगे FASTag के बारे में जोकि अभी कुछ महीने पहले ही सड़क परिवहन मंत्रालय द्वारा चालू किया गया है जिससे बहुत सी सुविधाएं राजमार्गों पर मिल रही है औपचारिक तौर पर 2014 में ही FASTag(फास्टैग) की शुरुआत हो गई थी जो कि टोल प्लाजा पर लगने वाला एक प्रकार का टैक्स इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम कहलाता है परंतु पूरे भारत में आधिकारिक तौर पर 2019 के अंत में उसे लागू किया गया। इससे संबंधित सभी जानकारियां आपको निम्नलिखित Article में दी जाएगी कि FASTag क्या होता है इसको कैसे बनाया जाता है सभी जानकारी को पाने के लिए आर्टिकल के अंत तक हम से जुड़े रहिए।

What is FASTag

FASTag एक प्रकार का Digital Tag होता जिसे भारत सरकार के सड़क परिवहन मंत्रालय के द्वारा जारी किया गया यह Toll plazas पर होने वाली असुविधा को जिससे घंटों जाम लग जाता था तथा किसी भी टोल केंद्रों पर शुल्क को लेने के लिए इस व्यवस्था को शुरू किया गया है। उसके लिए ये गाड़ियों के Wind Mirror पर लगा होता है जिसके द्वारा टोल प्लाजा पर Scan होकर रोड शुल्क अदा हो जाता है इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि टोल केंद्रों पर गाड़ियों के लंबे जाम से बचने के लिए इसका उपयोग किया जाता है जिससे मात्र 2 से 4 सेकंड में गाड़ियां आसानी से टोल प्लाजा पर FASTag का स्कैन करा कर निकल जाते हैं वर्तमान समय में पूरे भारत में फास्टैग लागू कर दिया गया जिससे वाहनों की टोल शुल्क की चोरी भी बंद हो चुकी है।

Fastag

फास्टैग किस प्रकार कार्य करता है?

फास्टैग (FASTag) के इस्तेमाल की बात की जाए तो यह वाहनों की Windscreen पर एक Tag के तौर पर लगा होता है जिसमे Radio Frequency Identification Technique का Used किया गया है। ये Toll plaza पर लगे Sensor के द्वारा वाहनों पर लगे Tag को Scan करके शुल्क भुगतान कर लेता है। जिसके बाद फास्टैग अकाउंट से भुगतान राशि सीधे टोल प्लाजा पर जमा हो जाती है यदि FASTag के अकाउंट में राशि नहीं है तो उसके लिए रिचार्ज करवाने की आवश्यकता पड़ती है। जिसमें Paytm UPI Phone pay Credit card तथा अन्य किसी बैंक अकाउंट के द्वारा रिचार्ज कराया जा सकता है। FASTag के आने से सड़क परिवहन में आसानी देखने को मिलती है तथा टोल प्लाजा पर लंबी कतारों में खड़े वाहनों से छुटकारा भी मिलता है।

FASTag के फायदे:

यदि भारत सरकार द्वारा किसी भी परियोजना को लागू किया जाता है तो उसके कुछ ना कुछ फायदा जरूर होते हैं जिसका फायदा दोनों ही तरफ होता है चाहे वह सरकार हो या जनता,इस व्यवस्था को चालू करने के पीछे भी निम्नलिखित कई फायदे हैं जो कि आपको बताया जा रहे है:

  • FASTag के द्वारा समय की बचत होती है पहले जो टोल प्लाजा पर शुल्क अदा करने के लिए जाम लग जाता था उसके विपरीत अब FASTag Scanner में मात्र 2 से 4 सेकंड में ही पूरा हो जाता है जिससे समय की बहुत बचत होती है।
  • टोल केंद्रों के पास लंबी कतारों में खड़े वाहनों  की वजह से प्रदूषण में कमी आई है।
  • उचित दरों में टोल का भुगतान किया जा सकता है जिससे टोल प्लाजा में होने वाली चोरी से बचा जा सकता है।
  • टोल भुगतान में काफी आसानी हो गई है इसमें  उचित दरों पर शुल्क अदा किया जा सकता है जिसमें कोई असुविधा नहीं होती।
  • FASTag के द्वारा शुल्क अदा करने पर आपको Cashback offers की भी प्राप्ति होती है।
  • राष्ट्रीय राजमार्ग पर आने जाने वाले वाहनों का विवरण दर्ज होता है इससे राष्ट्रीय मार्ग प्रबंधन में काफी आसानी होती है।
  • आपके द्वारा दिए गए शुल्क का विवरण आपके मोबाइल पर S.M.S. के द्वारा प्राप्त हो जाता है जिससे आपके FASTag संबंधित रिकॉर्ड सुरक्षित रहते हैं।
Fastag

फास्टैग बनवाने के लिए उपयुक्त जरूरी दस्तावेज:

यदि आप अपने वाहन के लिए FASTag(फास्ट टैग) बनवाना चाहते हैं तो उसके लिए कुछ जरूरी दस्तावेज निम्नलिखित बताए जा रहे हैं जिससे आपको असुविधा ना हो तथा पहले से ही मालूम होने पर आप इसे भली-भांति बनवा सकते हैं:

  • Motor vehicle Registration
  • Aadhaar Card
  • Bank Account details
  • Address Proof(Electric bill,Phone bill,Domicile Certificate etc)

उपरोक्त बताए गए दस्तावेजों की सही सही जानकारी देना अनिवार्य है उसके बाद इसकी विशेष तौर पर जांच की जाती है तथा सही जानकारी होने पर ही फास्टैग कार्ड का पंजीकरण होता है।

fastag kya hai

फास्टैग ऑनलाइन कैसे बनाए?

ऑनलाइन घर बैठे ही फास्टटैग Registration कराना चाहते हैं तो उसके लिए आपको किसी Online Payment App के द्वारा आसानी से रजिस्ट्रेशन प्राप्त हो जाएगा निम्नलिखित आपको पेटीएम के द्वारा फास्टैग रजिस्ट्रेशन बताया जा रहा है:

  • सबसे पहले आपको अपने PAYTM अकाउंट को LOGIN करना होगा।
  • उसके बाद होम पेज को इस Scroll करने पर नीचे Ticket Booking का ऑप्शन आएगा जिसमें दाएं तरफ नीचे Buy FASTag का विकल्प दिखेगा उस पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही अब आपके सामने एक होम पेज खुलेगा जिसमें आपको अपनी गाड़ी का Registration number उसके नीचे RC  की Front तथा back पेज दोनों ही तरफ की Photo क्लिक करके Upload करनी होगी यह याद रहे कि दोनों ही फोटो का साइज 2mb से अधिक नहीं होना चाहिए।
  • यह सब करने के बाद आपको नीचे की तरफ Proceed To Pay का ऑप्शन दिखेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • अंतिम चरण में आपका FASTag हो जाएगा तथा आपके द्वारा दिए गए पते पर 1 हफ्ते में पोस्ट के द्वारा डिलीवर हो जाएगा।

Leave a comment