एमपी ई-उपार्जन 2021-22 रजिस्ट्रेशन कैसे करे – MP E Uparjan Registration हिंदी में

0
68

MP E Uparjan Kya Hai | एमपी ई-उपार्जन 2021-22 रजिस्ट्रेशन कैसे करे | MP E Uparjan Registration Form | एमपी ई उपार्जन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे करे

राजस्थान सरकार द्वारा 25 जनवरी 2020 को एमपी ई-उपार्जन पोर्टल लॉन्च किया गया है जिसके तहत किसान अपनी खरीफ फसल समर्थन मूल्य पर सरकारी एजेंसियों को बेच सकते हैं। जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसके लिए सरकार द्वारा समय-समय पर किसानों के लिए कई सारी योजनाएं चलाई जा रही हैं और उसका सीधा लाभ किसानों को प्रदान भी किया जा रहा है। एमपी ई उपार्जन पोर्टल भी सरकार द्वारा किसानों के लिए एक अहम शुरुआत की गई है जिसका सीधा लाभ किसानों को प्रदान किया जाएगा। चलिए दोस्तों आज हम आपको प्लीज पोस्ट के माध्यम से एमपी ई उपार्जन पोर्टल से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां जैसे उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, आवश्यक दस्तावेज, पात्रता एवं ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया आपको बताएंगे।

Table of Contents

MP E Uparjan Portal 2021-22

मध्य प्रदेश राज्य के जो भी इच्छुक किसान अपनी खरीफ फसल समर्थन मूल्य पर सरकार को बेचना चाहते हैं तो सबसे पहले उन्हें एमपी ई-उपार्जन पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा उसके बाद ही किसान अपने खरीफ फसल समर्थन मूल्य पर बेच पाएंगे। इस पोर्टल के अंतर्गत पूरे मध्यप्रदेश के किसानों को कवर किया जाएगा। इस बार ऑनलाइन बिजी स्टेशन में कुछ बदलाव किए गए हैं पिछली बार एमपी E Uparjan कृषि उपज मंडी के माध्यम से होते थे जिसकी वजह से किसानों को काफी सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता था लेकिन इस बार किसान घर बैठे ही इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

सरकार द्वारा प्रत्येक जिले में गेहूं और धान की मॉनिटरिंग की गई हैं। मध्यप्रदेश में गेहूं खरीदी के लिए 2830 केंद्र है जिसमें से 708 रनर और 2830 डाटा एंट्री ऑपरेटर है। 12834 किसान प्रतिदिन अपनी गेहूं की फसल बेचते हैं। इसके अलावा मध्य प्रदेश में धान खरीद प्रणाली में 795 खरीद केंद्र हैं, 199 रनर्स एवं 795 डाटा एंट्री ऑपरेटर हैं एवं 4250 किसान प्रतिदिन अपनी फसल बेचते हैं।

एमपी ई-उपार्जन

एमपी ई-उपार्जन पोर्टल का उद्देश्य

जैसे कि अभी हमने आपको बताया कि इस बार ऑनलाइन पोर्टल में कुछ बदलाव किए गए हैं क्योंकि पिछले वर्ष किसानों को काफी सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था और कुछ किसान तो इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन भी नहीं कर सकती इसीलिए सरकार द्वारा इस वर्ष एमपी ई-उपार्जन पोर्टल में कुछ बदलाव कर किसान ई-उपार्जन के लिए सार्वजनिक डोमेन में ई प्रोक्योरमेंट पोर्टल पंजीकरण केंद्रों में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर पाएंगे। जिसके माध्यम से किसानों को अपनी फसल की कीमत सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य और सही समय पर मिल जाएगी। सरकार द्वारा सभी किसानों की आय में वृद्धि लाने के उद्देश्य से ही कई सारी योजनाएं आयोजित की गई हैं।

हाइलाइट्स ऑफ एमपी ई-उपार्जन पोर्टल

पोर्टल का नामएमपी ई उपार्जन पोर्टल
कब आरंभ हुए1 जनवरी  2020
किसके द्वारा आरंभ हुएराज्य सरकार द्वारा
उद्देश्यफसलों का समर्थन मूल्य कि प्राप्ति
लाभसमय रहते फसलों की बिक्री
लाभार्थीएमपी के किसान
योजना की श्रेणीमध्य प्रदेश सरकार द्वारा
आवेदन का प्रकारऑनलाइन आवेदन
आवेदन की तिथिजारी है
आवेदन की अंतिम तिथिअभी घोषित नहीं हुई
ऑफिशियल वेबसाइटhttp://mpeuparjan.nic.in/mpeuparjan/Home.aspx

मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल के लाभ

  • इस पोर्टल के माध्यम से मध्य प्रदेश के किसान घर बैठे ही अपने मोबाइल या कंप्यूटर पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।
  • इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के इच्छुक किसान अपनी फसलों का समर्थन मूल्य प्राप्त करने के लिए इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।
  • MP E Uparjan Portal पर केवल मध्य प्रदेश राज्य के किसान भी आवेदन कर सकते हैं।
  • इस पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने से किसानों का समय एवं बचत दोनों होगी।
  • ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने पर किसानों को किसी प्रकार की कोई समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर गेहूं बेचने के लिए किसान को इस बार वह तीन तारीखें भी बतानी होगी, जिनमें अनाज लेकर वह खरीदी केन्द्र पर आएगा।

MP E Uparjan पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए महत्वपूर्ण पॉइंट

  • मध्य प्रदेश उपार्जन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए किसानों को अपना आधार कार्ड नंबर और समग्र आईडी के तहत आवेदन करना होगा।
  • अगर किसानों के पास समग्र आईडी नहीं है तो उन्हें सबसे पहले अपनी समग्र आईडी बनवा नी होगी।
  • इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करते समय किसानों को अपने बैंक अकाउंट की दर्ज जानकारी की जांच अवश्य करनी होगी।
  • इस पोर्टल पर आवेदन करने से पहले आपके पास मोबाइल नंबर होना आवश्यक है और आपका मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक भी होना चाहिए।
  • पंजीकरण के बाद आपको एक रसीद दी जाएगी इसको आपको संभाल कर रखनी होगी । पंजीयन के बाद, पावती प्रिंट करें तथा खरीदी के समय पावती ले जाना अनिवार्य है।

एमपी ई-उपार्जन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • समग्र आईडी
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • ऋणपुस्तिका
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

एमपी ई-उपार्जन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एमपी ई उपार्जन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। उसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
एमपी ई-उपार्जन
  • इस होम पेज पर आपको रबी 2021 -2022 का विकल्प पर क्लिक करना है। क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
एमपी ई-उपार्जन
  • इसके बाद इस पेज पर आपको किसान पंजीयन /आवेदन सर्च का पर क्लिक करना है। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
MP E Uparjan
  • इस पेज पर आपको एक फॉर्म दिखाई देगा आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे किसान का नाम ,मोबाइल नंबर ,समग्र आईडी आदि सभी जानकारी भरनी है।
  • इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप की आवेदन प्रक्रिया सफलतापूर्वक हो जाएगी।

ई उपार्जन आवेदन स्थिति जानने की प्रक्रिया

एमपी ई उपार्जन आवेदन स्थिति
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको एप्लीकेशन नंबर दर्ज करना है।
  • अब आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना है।
  • आपकी आवेदन स्थिति आप की कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

पंजीयन केंद लॉग इन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना है।
पंजीयन केंद लॉग इन
  • इसके बाद आपको अदर यूजर के अंतर्गत पंजीयन केंद्र के लिंक पर क्लिक करना है।
एमपी ई-उपार्जन
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको जिला, पंजीयन केंद्र, ऑपरेटर, ओटीपी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप पंजीयन केंद्र लॉगइन कर पाएंगे।

MP E Uparjan  मोबाइल ऍप डाउनलोड करे

  • सबसे पहले आपको मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर पर जाना है । उसके बाद आपको यहाँ  “mp e uparjan” लिखकर सर्च करना है।
  • इसके बाद आपको उच्चतम मूल्यांकित ऐप डाउनलोड और इंस्टॉल करना है।
  • इस प्रकार इस मोबाइल एप की मदद से आप खरीफ सहित अन्य सभी फसलों के लिए पंजीकरण करके लाभ प्राप्त कर सकेंगे।
  • आप ई उपार्जन पोर्टल पर जाकर भी अपना मोबाइल नंबर और समग्र आईडी नंबर डालकर मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए लिंक प्राप्त कर सकते हैं।

किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा कैसे जोड़े ?

  • सर्वप्रथम आपको ई उपार्जन की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है। वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको खरीफ 2020 -21 का विकल्प पर क्लिक करना है। क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको खरीफ़ उपार्जन वर्ष 2020-21 हेतु किसान पंजीयन आवेदन का लिंक पर क्लिक करना है। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इसके बाद इस पेज पर आपको किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा जोड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे का विकल्प पर क्लिक करना है।
किसान पंजीयन आवेदन
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर एक फॉर्म खुलकर आ जायेगा। इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे किसान की व्यक्तिगत जानकारी ,मोबाइल नंबर ,किसान का नाम ,समग्र सदस्य आईडी , किसान की बैंक सम्बन्धी जानकारी आदि भरनी है।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना है। इस तरह किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा जुड़ जायेगा।

पावती पर्ची प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको ई उपार्जन की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है। वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको खरीफ 2020 -21 का विकल्प पर क्लिक करना है। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • फिर आपको खरीफ़ उपार्जन वर्ष 2020-21 हेतु किसान पंजीयन आवेदन का लिंक पर क्लिक करना है। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त करे का लिंक पर क्लिक करना है।
पावती पर्ची
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुलकर आ जायेगा। इस पेज पर आपको फॉर्म दिखाई देगा जिसमे आपको पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद किसान सर्च करे के बटन पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त हो जाएगी आप इसे प्रिंट भी कर सकते है।

तहसीलदार लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना है।
  • अब आपको तहसीलदार के लिंक पर क्लिक करना है।
तहसीलदार लॉगइन
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको जिला तथा तहसील का चयन करना है।
  • अब आपको पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • इसके बाद आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप तहसीलदार लॉगिन कर पाएंगे।

प्रबंधक नाफेड लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको डिस्ट्रिक्ट यूजर के अंतर्गत प्रबंधक नाफेड के लिंक पर क्लिक करना है।
प्रबंधक नाफेड लोगिन
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना है।
  • अब आपका अपना पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • इसके बाद आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप प्रबंधक नाफेड लॉगिन कर पाएंगे।

उप संचालक कृषि लॉगिन करने की प्रक्रिया

उप संचालक कृषि लॉगिन
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना है।
  • अब आपको अपना पासवर्ड एवं कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • इसके बाद आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप उप संचालक कृषि लॉगिन कर पाएंगे।

सीईओ जिला पंचायत लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको डिस्ट्रिक्ट यूजर के अंतर्गत सीईओ जिला पंचायत के लिंक पर क्लिक करना है।
सीईओ जिला पंचायत लोगिन
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना है।
  • इसके बाद आपको अपना पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • अब आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप सीईओ जिला पंचायत लॉगिन कर पाएंगे।

डीआईओ लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एमपी ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना है।
  • अब आपको डीआईओ के लिंक पर क्लिक करना है
डीआईओ लोगिन
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना है।
  • अब आपको अपना पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • अब आपको लॉगइन के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप डी आई ओ लॉगिन कर पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here