|NEET Full Form| नीट (NEET Exam) क्या है- नीट की तैयारी कैसे करे?

NEET Exam Kya Hota Hai और इसकी फुल फॉर्म क्या होती है एवं इसकी तैयारी कैसे करे व एग्जाम की तैयारी करने का तरीका क्या है

आज हम आपको नीट परीक्षा के बारे में जानकारी प्रदान करने वाले हैं। जैसे कि हम सभी लोग जानते हैं कि 12वीं कक्षा पूरी करने के बाद बहुत सारे लोग अपने कैरियर का चुनाव पहले ही कर लेते हैं कि उन्हें भविष्य में क्या बनना है। और अगर आपमें से जो लोग डॉक्टर बनना चाहते हैं उनके लिए नीट परीक्षा देना अनिवार्य है। आज के समय में डॉक्टर फील्ड में बहुत अच्छा करियर स्कोप है इसलिए ज्यादातर विद्यार्थी डॉक्टर बनना चाहते हैं लेकिन डॉक्टर बनना इतना आसान नहीं है उसके लिए आपको बहुत सारी परीक्षाएं देनी पड़ती हैं और कठिन परिश्रम भी करना पड़ता है। अपने करियर में किसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत कड़ी मेहनत करनी पड़ती है जिसके बाद हम उस क्षेत्र में कामयाबी हासिल करते हैं।

तो चलिए दोस्तों आज हम आपको अपने इस पोस्ट के माध्यम से नीट एग्जाम से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं। अगर आप में से कोई अपने करियर में डॉक्टर बनना चाहता है तो सबसे पहले आपको नीट परीक्षा के बारे में जानना बहुत आवश्यक है। उसके लिए आपको हमारी इस पोस्ट को अंत तक पढ़ना होगा।

NEET Exam Kya Hai?

नीट का फुल फॉर्म  “NATIONAL ELIGIBILITY CUM ENTRANCE TEST” होता है। जिसे हिंदी भाषा में राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा” कहते हैं। पहले नीट एग्जाम्स को AIPMT ( All India Pre Medical Test ) के नाम से जाना जाता था जिसे वर्ष 2016 के बाद इसे नीट एग्जाम में बदल दिया गया। नेट की परीक्षाएं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के माध्यम से कराई जाती है। मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन लेने के लिए ही नेट की परीक्षाएं कराई जाती है जिसमें पास होना अनिवार्य होता है और उसके बाद आपको मेडिकल कॉलेज में MBBS (मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी), BDS (बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी) और Ayush (आयुर्वेद) जैसे कोर्सो में प्रवेश मिलता है।

NEET Exam देने के लिए आपको बारहवीं कक्षा 50% अंकों से पास करने अनिवार्य होती है जिसके बाद इस परीक्षा का आयोजन वर्ष में एक बार मई के महीने में किया जाता है। जो विद्यार्थी इस परीक्षा में आवेदन करना चाहते हैं उनके पास आधार कार्ड होना आवश्यक है। इस परीक्षा का आयोजन पूरे देश में विद्यार्थियों के लिए किया जाता है।

नीट (NEET Exam) क्या है

नीट एग्जाम की तैयारी कैसे करे ?

  • जैसे कि हम आपको हमेशा यही बताते हैं किसी भी क्षेत्र में कामयाबी हासिल करने के लिए सबसे पहले कठिन परिश्रम करने की आवश्यकता होती है जिसके बाद आपको कामयाबी हासिल होती हैं।
  • नीट एग्जाम की तैयारी के लिए सबसे पहले आपको 12वीं कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी की किताबों को बहुत ही ध्यान से और समझ कर पढ़ना चाहिए।
  • आपको अपनी पढ़ाई के लिए एक टाइम टेबल सेट करना चाहिए। जिसमें आपको थोड़ा थोड़ा समय हर विषय में अध्ययन करना चाहिए।
  • जिन विषयों में आप बहुत अच्छे हैं उन्हें थोड़ा कम समय अध्ययन करें और जिन विषयों में आप भी हैं उन्हें ज्यादा अध्ययन करें।
  • नीट परीक्षा देने के लिए आपको कोचिंग सेंटर जरूर ज्वाइन करना चाहिए इसके अलावा आप इंटरनेट की सहायता से भी परीक्षा की अच्छी तैयारी कर सकते हैं।
  • एग्जाम से पहले आप पुराने क्वेश्चन पेपर को सॉल्व करें जिससे कि आपको इंपॉर्टेंट क्वेश्चन के बारे में अच्छी जानकारी प्राप्त होगी।

Eligibility Of MEET exams

  • 12वीं कक्षा में विद्यार्थियों को केमिस्ट्री फिजिक्स और बायोलॉजी विषय में 50% अंकों से पास होना अनिवार्य है।
  • नेट परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए आवेदक की आयु 17 वर्ष से 25 वर्ष तक होनी अनिवार्य है।
  •  SC, ST,PH कैंडिडेट के लिए 5 वर्ष की छूट दी जाती हैं।
नीट (NEET Exam) क्या है

SSC Exam Kya Hai

नीट एग्जाम की फीस

अब हम आपको बताते हैं कि नीट एग्जाम की फीस जनरल कैंडिडेट के लिए 1400 रुपए और SC, ST,PH कैंडिडेट के लिए 750 रुपए होती है। यह पीस नीट एग्जाम फॉर्म भरते वक्त जमा करनी होती है।

NEET Full Form

नीट एग्जाम सिलेबस

  • नीट परीक्षाओं में विद्यार्थियों से फिजिक्स, केमिस्ट्री, जूलॉजी और बॉटनी प्रत्येक विषय में से 45 क्वेश्चन किए जाते हैं।
  • इन 45 क्वेश्चन के सही जवाब देने पर आपको 180 नंबर दिए जाते हैं। इसका मतलब यह होता है कि चारों विषय में पूछे गए 45 सवालों के सही जवाब देने पर आपको 720 नंबर दिए जाते हैं।
  • एक बात का खास ख्याल रखें इन सवालों में गलत जवाब देने पर आपके नंबर माइनस भी होते हैं।
  • इन परीक्षाओं में जो क्वेश्चन दिए जाते हैं वह ऑब्जेक्टिव होते हैं। एक क्वेश्चन का सही जवाब देने पर आपको चार नंबर दिए जाते हैं और गलत जवाब देने पर आपके 5 नंबर कट जाते है।
  • नीट की परीक्षाएं आपकी सुविधा के अनुसार हिंदी और इंग्लिश भाषा में कराई जाती है।
  • यह परीक्षा देने के लिए आपको 3 घंटे का समय दिया जाता है इन 3 घंटों में आपको सभी क्वेश्चन को हल करना होता है।
  • नीट एग्जाम की काउंसलिंग होने के बाद आप उसके बेसिस पर आप इंडिया के किसी भी बेस्ट कॉलेज में एडमिशन लेकर अपना करियर की ओर पहला कदम बढ़ा सकते हैं।

Leave a comment