कंप्यूटर के पार्ट्स के नाम क्या है- Computer Parts Name Hindi Me

Computer Kya Hota Hai और कंप्यूटर के पार्ट्स के नाम क्या है एवं हार्डवेयर पार्ट्स कौन कौन से होते हैं व Computer Parts Price List India

Computer(कंप्यूटर)अपने निजी जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुका है जिसके जरूरत आजकल हर जगह देखी जाती है चाहे वह दफ्तर हो स्कूल कॉलेज,रेलवे का टिकट निकालना हो, हवाई यात्रा का टिकट निकालना इन सभी चीजों का कंप्यूटर के ही द्वारा किया जाता है पिछले कुछ वर्षों से कंप्यूटर का इस्तेमाल बहुत तेजी से बढ़ा है इसका मुख्य कारण यह है कि इससे समय की बचत होती है कोई भी कार्य बहुत आसानी से किया जा सकता है आज हम कंप्यूटर में उपयोग होने वाले उनके सभी पार्ट्स के बारे में आपको जानकारी देंगे इस लेख के माध्यम से आपको यह बताया जाएगा की Computer के Parts किस प्रकार कार्य करते हैं तथा कंप्यूटर में उपयोग होने वाले पार्ट्स की विस्तृत जानकारी दी जाएगी चाहे वह Hardware हो या Software हो।

कंप्यूटर के पार्ट्स के नाम क्या है

किसी Computer को चलाने के लिए उस में उपयोग होने वाली Device की आवश्यकता पड़ती है क्योंकि इन डिवाइसों के बिना कंप्यूटर को नहीं चलाया जा सकता यह तीन प्रकार की होती है जो कि निम्न लिखित है

क्रमानुसार सभी Device के बारे में एक-एक करके जानकारी दी जाएगी।

1.Input Device

हमारे द्वारा किसी भी प्रकार के कंप्यूटर में यदि कोई इनपुट किया जाता है तो वह डिवाइस को Input Device कहते हैं जिसके द्वारा सभी प्रकार के इनपुट को संजोए रखा जा सकता है इसके कुछ उदाहरण निम्नलिखित दिए गए हैं।

  • Keyboard:-यह एक प्रकार की इनपुट डिवाइस है जिसके द्वारा किसी भी मैटर को टाइप किया जाता है इसमें बहुत से Alphanumeric अंकित होते हैं।
  • Mouse:-Mouse का कार्य किसी भी डिवाइस को सिलेक्ट करना तथा उससे अंतिम रूप देना होता है यह एक तरह का Pointer key होता है।
  • Microphone:-यह कंप्यूटर डिवाइस Audio को रिकॉर्ड करता है तथा प्राप्त ऑडियो को कंप्यूटर में इनपुट करना इसका कार्य होता है।
  • Webcam:-इस डिवाइस का विशेष कार्य कंप्यूटर में live stream करना या फिर Video record या Video call करना होता है।
  • Joystick:- Video Game को खेलने के लिए एक प्रकार का इनपुट डिवाइस होता है Gaming Program के लिए प्रयुक्त होता है।
  • Power Cable:-किसी भी कंप्यूटर डिवाइस में 2 पावर केबल होते हैं जो CPU तथा Monitor से जुड़ी हुई होती है।

2.Output Device

किसी भी कंप्यूटर में इनपुट डिवाइस के द्वारा दिए गए दिशा निर्देश को अपने द्वारा मॉनिटर स्क्रीन पर उसे किसी हार्डकॉपी में ट्रांसफर करने की व्यवस्था को Output Device कहते हैं। इसके कुछ निम्नलिखित Parts बताए जा रहे हैं।

  • Monitor:-कंप्यूटर में किए गए किसी भी प्रकार के कार्यों को Display पर प्रदर्शित करता है यही इसका मुख्य कार्य होता है।
  • Printer:-किसी भी फाइल को कंप्यूटर में सेव करने के बाद उसे Printer की सहायता से एक हार्ड कॉपी के रूप में निकाला जा सकता है इसी के माध्यम से।
  • Scanner:-इसका मुख्य कार्य यह होता है कि किसी भी pictures,files या documents को जोकी हार्डकॉपी के रूप में होते हैं उन्हें स्कैन करके कंप्यूटर में एक सॉफ्टकॉपी के रूप में जमा करता है।
  • Speaker:-कंप्यूटर में Audio को सुनने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है जोकि काफी महत्वपूर्ण होता है।
  • Projector:-इसका मुख्य कार्य कंप्यूटर में प्रयुक्त vedio को पर्दे पर प्रदर्शित करना होता है या किसी भी रूप में हो सकते हैं जोकि बड़े पर्दे पर आसानी से इस्तेमाल हो जाते हैं।
  • Plotter:-इसका इस्तेमाल Graphic design एवं उन्हें आकार देने के लिए होता है जो कि किसी विशेष कंप्यूटर डिजाइन के द्वारा किया जाता है।

3.Processing Device

किसी भी कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण डिवाइस Processing Device कहलाता है क्योंकि इसी के द्वारा कंप्यूटर में किए गए इनपुट को प्रोसेस किया जाता है जोकि बहुत जरूरी होता है यदि Processing Device ठीक से काम नहीं कर रही है तो आपका कंप्यूटर किसी भी प्रकार का कार्य करने में असफल रहेगा इसके कुछ महत्वपूर्ण Parts निम्नलिखित बताए गए हैं।

  • CPU:- यह एक प्रकार का सबसे महत्वपूर्ण डिवाइस होती है जिसके द्वारा कंप्यूटर के सभी प्रकार के Computer system को process किया जाता है जोकि काफी उपयोगी कार्य होता है CPU को कंप्यूटर का मस्तिष्क भी कहते हैं।
  • Motherboard:-एक प्रकार का कंप्यूटर सर्किट कहलाता है जिसमें कंप्यूटर के अंतर्गत RAM,ROM आदि install किए जाते हैं।
  • Graphic Card:-Monitorकी स्क्रीन पर जो भी Images दिखाई जाती है उसको बेहतर से बेहतर तरीके से प्रस्तुत करना इसी का कार्य होता है।
  • RAM:-Random Access Memory के द्वारा किसी भी Multi tasking program को बढ़ाया जाता है। जो कि कंप्यूटर के लिए आवश्यक माना जाता है। ये  एक प्रकार की Primary Memory होती है।
  • ROM:-Read Only Memory भी एक प्रकार की Primary Memory होती है।जिसके अंतर्गत किसी Software को एक्सेस किया जाता है।

Leave a comment