Leave Letter For Death In Hindi- मृत्यु में जाने के लिए एप्लीकेशन

मृत्यु में जाने के लिए एप्लीकेशन कैसे लिखे और लिखने का तरीका क्या होता है एवं Leave Letter For Death In Hindi

जैसा कि हम जानते हैं कि जीवन में यदि हमें खुशियां प्राप्त होती हैं तो उसके साथ ही साथ कभी ना कभी गम का भी ऐसा माहौल आ जाता है जो कि काफी ज्यादा सजने वाला होता है जैसा कि घर में ही या रिश्तेदार या कोई क्रीजन की मृत्यु का समाचार जिससे हमारे हृदय को झकझोर कर रख देने वाला कार्य होता है ऐसे में यदि हम कहीं बाहर नौकरी कर रहे हैं या फिर किसी School में पढ़ रहे हैं तो वहां हमें अचानक से छुट्टी के लिए Application देना होता है या Leave Letter  जो होता है वह किसी की मृत्यु से संबंधित लिखा जाता है

ऐसे में बहुत से ऐसे लोग होते हैं जोकि Leave Letter For Death लिखने नहीं आता है यानी मृत्यु में जाने के लिए एप्लीकेशन जो लिखा जाता है लिख नहीं पाते तो आज हम इस Article के माध्यम से आपको इन हिंदी लिखने का तरीका बताने जा रहे हैं।

Leave Letter For Death In Hindi

जब भी हम अपने घर से दूर कहीं नौकरी कर रहे होते हैं या फिर किसी स्कूल में पढ़ाई कर रहे होते हैं तो ऐसे में हमें अपने रिश्तेदारों या प्रियजनों के मृत्यु का समाचार प्राप्त होता है जिससे कि काफी गम का माहौल बन जाता है और इस गमगीन माहौल में हमें अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए जाना होता है क्योंकि यह हमारे कर्तव्य में गिना जाता है ऐसे में हमें अपने Office या School या दफ्तर में बिना जानकारी के नहीं जाना होता है इसके लिए हमें वहां पर एक Leave Letter For Death का लिख कर देना होता है जिससे हमारी छुट्टी हमें दी जाती है परंतु यह मृत्यु में जाने के लिए प्रार्थना पत्र कैसे लिखा जाता है या कुछ लोगों को नहीं पता होता है जो कि हम आपको अब बताने जा रहे हैं।

Leave Letter For Death

मृत्यु में जाने के लिए छुट्टी का Application देना

किसी मृत्यु का समाचार प्राप्त होने के बाद छुट्टी नहीं होती है किसी दफ्तर स्कूल निजी संस्था या फिर सरकारी कार्यालयों में तो उसके लिए हमें छुट्टी का Application देना होता है जोकि निम्नलिखित हम आपको बताने जा रहे हैं।

Leave Letter For Death In Hindi–1

दिनांक:20/07/2022

सेवा में,

शाखा प्रबंधक

पंजाब नेशनल बैंक

हाजीपुर,बिहार

विषय: रिश्तेदार की मृत्यु हेतु अवकाश प्राप्ति के लिए प्रार्थना पत्र

महोदय,

इस संदेश के माध्यम से मैं आपको बहुत ही भारी ह्रदय के साथ अवगत करा रहा हूं कि मेरे मामा जी सुधाकर पांडे का निधन आज के दिन हो गया है जिसकी वजह से मैं और मेरा परिवार पूरी तरीके से शोक में डूबा हुआ है और अंतिम संस्कार मेरे गृह जनपद पटना में ही आयोजित किया जा रहा है।

अतः आप श्रीमान जी से निवेदन है कि मुझे 3 दिन का तक अवकाश देने की कृपा करें जिससे मैं अपने मामा जी के अंतिम संस्कार में शामिल हो सकूं और मृतक के प्रति अपने कर्तव्य का पालन कर सकूं।

धन्यवाद!

आपका आकांक्षी

जगमोहन पांडे

कंप्यूटर ऑपरेटर

पंजाब नेशनल बैंक

हाजीपुर,बिहार

फोन नं:98××××××56

Leave Letter For Death

Leave Letter For Death In Hindi–2

दिनांक:23/07/2022

सेवा में,

कार्यालय प्रबंधक

आयकर विभाग

गोलघर,कचहरी

वाराणसी–221001

विषय: पिता जी के देहांत पर अवकाश हेतु प्रार्थना पत्र

महोदय,

बहुत ही भारी मन से आपको बताना पड़ रहा है की गत दिनों से मेरे पिताजी कैंसर बीमारी से जूझ रहे थे जिसके कारण आज ही अभी-अभी खबर मिली कि उनका देहांत हो चुका है ऐसे में यह खबर मेरे लिए बहुत ज्यादा गमगीन करने वाली है और मैं अपने पिताजी के श्राद्ध में शामिल होने के लिए अपने गांव आजमगढ़ जाना चाहता हूं ताकि उनकी शवयात्रा में शामिल होकर उनके द्वारा सिखाए गए जीवन में कर्तव्यों को पालन कर सकूं और उनकी आत्मा को शांति हेतु श्राद्ध करा सकूं।

अतः आप श्रीमान जी से मैं विनर अनुरोध करता हूं की मुझ पर कृपा करके 10 दिन की छुट्टी जोकि 23/07/20220 से 01/08/2022 तक की है देने की कृपा करें जिससे मैं अपने पिता जी के अंतिम संस्कार में शामिल हो सकूं और अपने कर्तव्यों का वहन कर सकूं।

धन्यवाद!

आपका विश्वासी कर्मचारी

राहुल यादव

पद:टाइप राइटर

आयकर विभाग

गोलघर,कचहरी

वाराणसी–221001

फोन नं:76××××××56

Leave Letter For Death In Hindi–3

दिनांक:21/07/2022

सेवा में,

प्रधानाचार्य जी

नेशनल इंटर कॉलेज

अखरी सट्टी,पोखरा

जनपद:पीलीभीत

विषय: दादा जी के मृत्यु में जाने के लिए अवकाश हेतु प्रार्थना पत्र

महोदय,

सविनय निवेदन है कि मैं आपके कॉलेज का कक्षा 12वीं का छात्र हूं और आज के दिन मेरे दादाजी जो कि पिछले कई दिनों से गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे अचानक से उनका देहांत हो गया ऐसे में मैं और मेरा परिवार यहां पर रहते हैं और मेरा घर लखनऊ में स्थित है जहां पर दादाजी का निधन हुआ है इसलिए हमें अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए लखनऊ जाना होगा जिसकी वजह से मैं कुछ दिनों के लिए स्कूल आने में असमर्थ रहूंगा क्योंकि इस दुख की घड़ी में मैं अपना पूरा समय अपने पिताजी और पूरे परिवार के साथ बिताऊंगा।

आपसे मेरा यही निवेदन है की मुझे कृपा करके 15 दिनों की छुट्टी देने की स्वीकृति प्रदान करें जिससे मैं अपने दादाजी के अंतिम संस्कार में शामिल हो सकूं।

धन्यवाद:

आपका आज्ञाकारी छात्र

रोशन कुमार

कक्षा:12 B

रोल नंबर:56

Leave a comment