डॉक्टर कैसे बने- MBBS Doctor Kaise Bane, एमबीबीएस की तैयारी कैसे करे?

0
40

Doctor Kya Hota Hai | डॉक्टर कैसे बने | MBBS Doctor Kaise Bane | एमबीबीएस की तैयारी कैसे करे | एमबीबीएस कोर्स की फीस कितनी है

आज के समय में ज्यादातर विद्यार्थी उस क्षेत्र का चुनाव करते हैं जहां पर करियर स्कोप बहुत ही सक्सेसफुल होता है। ज्यादातर विद्यार्थी अपने भविष्य में इंजीनियर या डॉक्टर बनना चाहते हैं क्योंकि आज के इस दौर में डॉक्टर और इंजीनियरिंग की सबसे ज्यादा मांग है। लेकिन डॉक्टर बनना इतना आसान नहीं है जितना हम समझते हैं क्योंकि अपने भविष्य में एक सफल डॉक्टर बनने के लिए आपको बहुत कड़ी मेहनत करनी पढ़ती है तो चलिए दोस्तों आज हम आपको अपनी पोस्ट के माध्यम से एमबीबीएस डॉक्टर से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं। अगर आप भी एक सक्सेस फुल डॉक्टर बनना चाहते हैं तो हमारे इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें क्योंकि किसी भी फील्ड का चुनाव करने से पहले उस के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी हासिल करना बहुत जरूरी होता है।

डॉक्टर कैसे बने?

दोस्तों जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं कि डॉक्टर्स के कंधों पर एक बहुत ही महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होती है और वह होती है किसी को जिंदगी देने की। इस जिम्मेदारी को संभालना हर किसी के बस की बात नहीं होती। जब हम बीमार होते हैं तो भगवान के अलावा एक डॉक्टर ही होता है जो हमें दोबारा जिंदगी देता है। वैसे तो डॉक्टर्स कई प्रकार के होते हैं जैसे डेंटिस्ट, होम्योपैथिक डॉक्टर, आयुर्वेदिक डॉक्टर आदि। आपको डॉक्टर फील्ड में जिस तरह का डॉक्टर बनना है उसके लिए आपको उस से रिलेटेड कोर्स करना होता है।

अगर आप एक सक्सेसफुल एमबीबीएस डॉक्टर बनना चाहते हैं तो आपको एमबीबीएस करना पड़ता है जिसके लिए आपको लगभग 4 से 5 साल का समय लगेगा। उसके बाद किसी भी गवर्नमेंट हॉस्पिटल में आपको 1 साल की इंटर्नशिप करनी पड़ेगी। जिसके बाद आप मास्टर ऑफ डॉक्टर (MD) या फिर मास्टर ऑफ सर्जरी (MS)  भी कर सकते है।

डॉक्टर कैसे बने

एमबीबीएस कोर्स की फीस एवं अवधि

एमबीबीएस कोर्स 4 साल 6 महीने का होता है। जिसमे 9 सेमेस्टर होते है। जिसमे एक वर्ष की इंटर्नशिप होती है। एमबीबीएस कोर्स करने में 5 साल का समय लगता है। भारत में 541 एमबीबीएस कॉलेजों में कुल 82,926 एमबीबीएस मेडिकल सीटें हैं, जिसमें 278 सरकारी और 263 प्राइवेट कॉलेज शामिल हैं। एमबीबीएस डॉक्टर बनने के लिए अगर आप किसी सरकारी मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस करते हैं तो आपको 1000 से लेकर 30000 तक की फीस देनी होती है लेकिन अगर आप वही कोर्स प्राइवेट मेडिकल कॉलेज से करते हैं तो आपको कम से कम 5 लाख से लेकर 20 लाख तक की फीस जमा करनी होगी।

डॉक्टर बनने के लिए परीक्षा पैटर्न

10th पास करे

एक सक्सेस फुल डॉक्टर बनने के लिए आपको बायोलॉजी बहुत ही ध्यान से पढने कि जरूरत है क्योंकि डॉक्टर बनने के लिए यह आपका पहला कदम होगा। तो आपको दसवीं की परीक्षा बायोलॉजी और फिजिक्स और केमिस्ट्री जैसे विषयों में बहुत अच्छे नंबर से पास करनी है।

12th पास करे

10वीं परीक्षा अच्छे नंबरों से पास करने के बाद 12वीं की परीक्षा भी आपको साइंस में फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी के साथ ही अच्छे नंबरों के साथ पास आउट करनी है। कम से कम 12वीं परीक्षा में 50% अंक लाना अनिवार्य है क्योंकि उसके बाद ही आप मेडिकल प्रवेश परीक्षा दे सकते हैं।

डॉक्टर कैसे बने

मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम

जैसे कि हमने आपको अभी ऊपर बताया कि 12वीं परीक्षा अच्छे नंबरों से पास करने के बाद आपको मेडिकल कॉलेज में प्रवेश लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होगा। इस परीक्षा को देने के लिए आपको ग्यारहवीं परीक्षा से हुई तैयारी शुरू कर देनी चाहिए क्योंकि यह बहुत कठिन परीक्षा होती है। अगर आप एंटरेंस एग्जाम्स में जरा सी भी लापरवाही करते हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि आप इस परीक्षा में पास नहीं हो पाएंगे। एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करने के लिए आपको बहुत ही ध्यान से और समझ कर पढ़ाई करनी है रट्टा मारने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है।

इस परीक्षा में आपसे 11वीं और 12वीं जो भी पढ़ाई की है उस से रिलेटेड ही प्रश्न आते हैं। इस परीक्षा के लिए आप अपनी तैयारी और खुद को पहले से ही तैयार कर ले क्योंकि 12वीं परीक्षा पास करने के बाद आपको समय नहीं मिलता। अगर आप चाहे तो इस परीक्षा की तैयारी के लिए किसी अच्छे कोचिंग इंस्टिट्यूट की सहायता ले सकते।

एंट्रेस एग्जाम्स के लिए अप्लाई करें

बारहवीं परीक्षा कम से कम 50% अंकों के साथ पास करने के बाद और एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करने के बाद आप इस परीक्षा को देने के लिए फॉर्म भर सकते हैं। अगर आपके बारहवीं परीक्षा के फाइनल एग्जाम नहीं हुए हैं तो आप आल इंडिया मेडिकल एग्जाम या फिर स्टेट लेवल के फॉर्म भर सकते है। लेकिन इस बात का सास ध्यान रखें कि एग्जाम के मार्क्स पर ही निर्भर करता है कि आपको कौन से कॉलेज में एडमिशन दिया जाएगा क्योंकि रिजल्ट आने के बाद काउंसलिंग की जाती है और उसकी फ्रेंड के हिसाब से ही आपको कॉलेज में एडमिशन मिलता है। तो एम्स (AIIMS) , एम्एच सीइटी MH – CET) , एआईएम्पीटी (AIMPT) इत्यादि जैसे बड़े बड़े एंट्रेंस एग्जाम दे सकते है।

अपने भविष्य में एक सक्सेसफुल डॉक्टर बनने का सपना देखते हैं तो आपको इस परीक्षा में पास होना ही होगा। और अगर आप एंट्रेंस एग्जाम्स में बहुत अच्छे नंबरों से पास होते हैं तो आपको गवर्नमेंट कॉलेज मिल जाता है जिसमें आपको बहुत ही कम फीस देनी होती है। नीचे कुछ फेमस एंट्रेंस एग्जाम दिए गए है जिनके लिए आप अप्लाई कर सकते है

  • AIIMS Entrance Examination – All India Institute of Medical Sciences (AIIMS)
  • AIPMT – All India Pre-Medical/Pre Dental Entrance Examination (AIPMT)
  • MH CET – Maharashtra Common Entrance Test
  • DPMT – Delhi University Pre-Medical Test
  • PMET – Punjab Medical Entrance Test)
  • UPMT –Uttar Pradesh medical entrance Test

मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेकर डिग्री कंप्लीट करे

एंट्रेंस एग्जाम को पास करने के बाद आप एमबीबीएस के लिए मेडिकल कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं। एडमिशन लेने के बाद आपको एमबीबीएस कोर्स करने में आपको लगभग 4 से 5 साल का समय लगेगा। एमबीबीएस डॉक्टर बनने के लिए आपको किसी गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में 1 साल की इंटर्नशिप भी करनी होगी। आपको बहुत ही मेहनत और लगन से इस कोर्स को करना होगा जिसके बाद आप एक सफल डॉक्टर बन पाएंगे। हमने आपको पहले भी बताया है कि अलग-अलग डॉक्टर बनने के लिए अलग-अलग कोर्सेस किए जाते हैं छात्रों को जिस भी क्षेत्र में रुचि है वह अपनी रूचि के अनुसार उसको उसका चुनाव कर सकते हैं। डॉक्टर बनने के लिए कौन सा कोर्स करे उसके लिए नीचे लिस्ट में देख सकते हैं-

  • MBBS (Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery)
  • BDS (Bachelor of Dental Surgery)
  • BAMS (Bachelor of Ayurvedic medicine and Surgery)
  • BHMS (Bachelor of Homeopathic Medicine and Surgery)
  • B.Sc Nursing (Bachelor of Science in Nursing)
  • B.Pharm. (Bachelor of Pharmacy)
  • Pharm D (Doctor of Pharmacy)
  • BUMS (Bachelor of Unani Medicine and Surgery)
  • BPT (Physiotherapy)
Doctor Kaise Bane

Complete Your Internship

इसमें स्टेप्स को सफलतापूर्वक पास करने के बाद बारी आती है 1 साल की इंटर्नशिप करने की। बहुत ज्यादा जरूरी होती है। अपनी मेडिकल कॉलेज की  पढ़ाई और 1 साल की इंटर्नशिप पूरी करने के बाद आपको मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा डिग्री दी जाती है जिसके बाद आपको किसी भी हॉस्पिटल में डॉक्टर की जॉब मिल जाती हैं। और अगर आप डॉक्टर फील्ड में स्पेशलिस्ट बनना चाहते हैं तो आप अपनी पढ़ाई आगे भी जारी कर सकते हैं यानी पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं।

सस्ते मेडिकल कॉलेज के नाम

  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज (KMC) मैंगलोर
  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIMS) नई दिल्ली
  • मौलाना आज़ाद मेडिकल कॉलेज (MAMC) नई दिल्ली
  • लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज (LHMC)       नई दिल्ली
  • जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज (JLN)  अजमेर
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (CMC) वेल्लोर
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज (MMC)    चेन्नई
MBBS Doctor Kaise Bane

एमबीबीस डॉक्टर की सेलरी

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं कि डॉक्टर की प्रतिमाह सेलरी काफी अच्छी है। MBBS डॉक्टर की सैलरी की सरकारी अस्पताल मे 35,000/-  से 40,000/- होती है। वेतनमान के अनुसार इनकी सैलरी बढ़ती जाती है।

  • JIPMER के डॉक्टर का पैकेज 40000 से 100000 तक हो सकता है।
  • AFMC (Armed Force Medical College) का पैकेज रैंक पर निर्भर करता है। ये 57000 से 211600 तक रैंक के अनुसार होता है।
  • नेवी के कॉलेज का औसत पैकेज 1.20 लाख प्रतिमाह होता है।
  • आर्मी कॉलेज का पैकेज 80 हज़ार प्रतिमाह होता है।
  • प्राइवेट कॉलेज में 60 हज़ार से 70 हज़ार तक प्रतिमाह वेतन होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here