खसरा खतौनी और जमाबंदी क्या होता है- Khasra Khatauni Jamabandi Dekhe

खसरा खतौनी और जमाबंदी क्या होता है और Khasra Khatauni Jamabandi Online Kaise Dekhe एवं इन दोनों में अंतर क्या है

आज भी ग्रामीण क्षेत्र में बहुत से ऐसे लोग हैं जो कि किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं परंतु उनको अपने खेत खलिहानो के बारे में पूर्ण जानकारी नहीं होती ऐसे में उन्हें अपने खेतों की जानकारी रखने के लिए काफी परेशान भी होना पड़ता है इसलिए सरकार के द्वारा खसरा खतौनी और जमाबंदी (Khasra,Khatauni & Jamabandi) की व्यवस्था की गई जिसके माध्यम से आप अपने खेत आदि की जानकारी पूर्ण रूप से Online माध्यम से अपने Mobile पर ही जान सकेंगे और इससे आपको यह भी पता चल जाएगा कि आप की जमीन कितनी और आप कितने के हकदार हैं तो आइए निम्नलिखित हम आपको खसरा खतौनी और जमाबंदी क्या होती है उसके विषय में पूर्ण रूप से जानकारी प्रदान करते हैं जिससे आपको भी यदि Khasra, Khatauni की जरूरत पड़े तो आप Article के माध्यम से सभी जानकारी प्राप्त कर सके।

Khasra Kya Hota Hai

Khasra जो होता है वह मुख्य रूप से भारत में इस्तेमाल किया जाता है जो कि एक कानून के द्वारा प्रदान किया गया कृषि दस्तावेज होता है जिसमें जमीन और फसल के बारे में पूरी जानकारी लिखी होती है जिनमें जमीन किस क्षेत्र में है उसके मालिकाना आदि की जानकारी दर्ज रहती है और इसके साथ ही साथ जमीन पर कौन सी फसल लगी हुई है उसकी मिट्टी किस प्रकार की है तथा किस किसान अथवा व्यक्ति के द्वारा यह जमीन की जुताई और बुवाई की जाती है उसका भी ब्यौरा दर्ज होता है और यह सभी राजस्व विभाग के द्वारा व्यवस्थित रूप से दर्ज किया जाता है जिसमें संख्या के आधार पर गांव में भूमि को आवंटित किया जाता है।

UP Bhulekh

खतौनी (Khatauni) क्या होता है 

Khatauni एक प्रकार का ऐसा शब्द है जो जमीन से संबंधित गांव के खसरो पर व्यवस्थित रूप से आधारित एक सार के रूप में जाना जाता है और Khasra में नामित संबंधित व्यक्ति का खतौनी में सूचीबद्ध तरीके से नाम दर्ज होता है जिसमें यदि कोई व्यक्ति किसी दूसरे के खेत की जोताई बुवाई कर रहा है तो उसे भी Khatauni में जोड़ा जाता है जिसके द्वारा यह मालूम होता है कि यह जमीन किसकी है किसके नाम है जमीन में खेती के लिए सिंचाई की सुविधा प्रदान करना इस जमीन में किसी प्रकार का कोई लेन-देन या फिर कहीं और जमीन गिरवी तो नहीं है ऐसी सभी प्रकार की जानकारियां खतौनी में दर्ज होती है जिसके बाद ही उस जमीन की क्रय विक्रय किया जाता है।

जमाबंदी(Jamabandi) क्या होता है

जमाबंदी एक प्रकार की भूमि के रिकॉर्ड को सुरक्षित एवं संरक्षित रखने की व्यवस्था है जो कि मुख्य रूप से भारत के कुछ राज्यों जैसे पंजाब हिमाचल प्रदेश हरियाणा राजस्थान मणिपुर आदि में इस्तेमाल किया जाता है। जिसके माध्यम से Jamabandi Register में भूमि के मालिक का नाम उसका क्षेत्र यदि एक ही भूमि में कई मालिकाना हक है तो उसका विवरण अधिकार, किराया,राजस्व, खेती, जमीन पर देय है या नहीं यह सभी चीज Note की जाती है और यह चीजें राज्य के राजस्व विभाग के अंतर्गत लिखित तौर पर दर्ज रहती है जोकि अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग क्षेत्राधिकारी के मायने के बाद पंजीकृत होती है।

यूपी खसरा खतौनी व नक्शा ऑनलाइन कैसे देखे

खसरा और खतौनी(Khasra & Khatauni) में क्या अंतर होता है

खसरा और खतौनी में देखा जाए तो कुछ ही अंतर देखने को मिलता है जो कि हम आपको निम्नलिखित आरेख के द्वारा बताने जा रहे हैं।

क्रम स०खसरा(Khasra)खतौनी(Khatauni)
1भारत में कृषि से संबंधित एक प्रकार का ऐसा दस्तावेज जोकि कानूनी रूप से दर्ज किया जाता हैकिसी गांव में मौजूद खेत अथवा जमीन में हिस्सेदार ओं की संख्या को दर्शना तथा उनमें कितने हिस्से हैं उसे व्यवस्थित तौर पर दर्ज करना
2खसरे के द्वारा भूमि और फसल दोनों को ही कानूनी रूप से पैमाइश कराकर दर्ज कराया जाता हैयदि किसी की भूमि पर कोई किराए पर खेती कर रहा है तो उसका भी विवरण खतौनी के माध्यम से दर्ज किया जाता है
3खसरा किसी एक भूमिका वह संख्या होती है जो कि राजस्व विभाग के द्वारा आवंटित की जाती हैखतौनी के माध्यम से किसी भी जमीन पर यदि कोई किराएदार है तो उसको भी इसमें जोड़ कर दिखाया जाता है।

Khasra Khatauni Jamabandi कैसे देखते है

आप की भी जमीन गांव में है और आपको उसकी पूर्ण रूप से जानकारी नहीं है तो हम आपको इस Article के द्वारा खसरा और खतौनी कैसे देखते हैं उसका तरीका बताने जा रहे हैं जिसे आप भी अपनी जमीन के बाबत पूरी जानकारी हासिल कर सकें।

  • यदि आप उत्तर प्रदेश के निवासी हैं और अपनी जमीन की खसरा खतौनी देखना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले उत्तर प्रदेश की भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने Website का एक Homepage खोलकर आ जाएगा जिसमें आपको बाई तरफ खतौनी की नकल देखें का विकल्प दिखाई देगा जिस पर आपको Click कर देना होगा
  • अब आपके सामने एक नया Page आएगा जिसमें आपको यह खाली बॉक्स में Code भरना होगा जो कि आपको दाएं तरफ दिया होगा उस से भरकर ‘Submit’ के Option पर Click कर देना होगा।
  • जिसके बाद आपके सामने ‘District’ के नाम की List आ जाएगी उसमें से आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने तहसीलों की सूची आ जाएगी जिसमें से आपको अपनी ‘Tehsil’ को चुनना होगा
  • अब क्रमवार तरीके से आपके सामने सभी ‘Village’ के नाम की लिस्ट आ जाएगी जिसमें से आपको अपने गांव के नाम को चुनना होगा
  • अब एक प्रकार का नया पेज खुल कराया जाएगा जिसमें आपको खसरा खतौनी या फिर खाता संख्या को दर्ज Click करना होगा यदि आपको अपनी खसरा संख्या याद नहीं है तो आप अपने नाम के माध्यम से भी खोज सकते हैं।
  • इसके बाद आपके सामने आपकी जमीन का पूरा विवरण आ जाएगा जिसे आप Printout के माध्यम से निकालकर आसानी से देख सकते हैं।

Leave a comment