पटवारी कैसे बने – जानिए योग्यता वेतन व चयन प्रक्रिया की पूरी जानकारी हिंदी में

0
330

पटवारी क्या होता है | पटवारी कैसे बने | Patwari Salary | पटवारी योग्यता वेतन | पटवारी की चयन प्रक्रिया | पटवारी भर्ती परीक्षा | पटवारी बनने की तैयारी कैसे करे

दोस्तों आज हम आपको पटवारी के बारे में बताएंगे पटवारी कौन होता है और पटवारी कैसे बनाया जाता है और यह भी बताएंगे कि इसकी योग्यता वेतन और सिलेक्शन प्रोसेस क्या होता है जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे देश भारत में बेरोजगारी बहुत अधिक है इसलिए केंद्र सरकार और राज्य सरकारें समय-समय पर अलग-अलग विभागों में नौकरी के लिए नियुक्तियां निकालते रहते हैं इसी में से एक है पटवारी भर्ती के लिए में समय-समय पर रिक्त स्थान निकलते रहते हैं इसी Patwari की पोस्ट के लिए आज हम आपको बता रहे हैं कि हमें पटवारी की पोस्ट के लिए क्या-क्या करना चाहिए और इसकी परीक्षा की तैयारी कैसे करें।

Patwari Kon Hota hai

पटवारी की नियुक्ति हर जिले की तहसील में होती है और यह राजस्व विभाग के अंतर्गत कार्य करता है इसके अलावा पटवारी आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, आयु प्रमाण पत्र बनाने का कार्य करता है और इसके अलावा Patwari को तहसील के द्वारा एक जमीन का क्षेत्र दिया जाता है जिसमें उसको उस क्षेत्र की जमीन से जुड़ी तमाम परेशानियों का निपटारा करना पड़ता है और वह गांवों के किसानों की जमीनों की चकबंदी का काम भी करता है। पटवारी को लेखपाल भी कहा जाता है। जमीनों की खरीद-फरोख्त का कार्य भी पटवारी के सहायता से ही किया जाता है इसके अतिरिक्त राजस्व विभाग का सभी डाटा को पटवारी अपडेट करता है भूमि आवंटन का काम भी पटवारी ही करता है।

पटवारी

पटवारी एग्जाम्स सिलेब्स

1- हिंदी

Patwari परीक्षा में शामिल हिंदी विषय से संधि, काल, वाक्यांश, क्रिया त्रुटि का पता लगाना, आदि सवाल  पूछे जाएंगे।

2- इंग्लिश

पटवारी के अंग्रेजी विषय में Vocabulary, Grammar,Antonyms, Synonyms, Idioms And Phrases,आदि से रिलेटेड क्वेश्चन पूछे जाते हैं।

3- गणित

पटवारी के लिए आपकी गणित में अच्छा ज्ञान होना आवश्यक है क्योंकि  इसमें दशमलव, औसत, अनुपात, तार्किक विचार, नंबर सिस्टम, समय और कार्य आदि से प्रश्न जाते है।

4- कंप्यूटर ज्ञान

पटवारी परीक्षा में कंप्यूटर का ज्ञान होना बहुत ही आवश्यक होता है क्योंकि पटवारी बनने के बाद हमें ज्यादातर काम कंप्यूटर पर ही करने होते हैं। Patwari की परीक्षा देते समय दी कंप्यूटर ज्ञान संबंधी आदि सवाल पूछे जाते हैं जैसे कि Computer Basics, Input And Output Devices, Word Processing, Operating System.

5- जर्नल नॉलेज

आप किसी भी जॉब के इंटरव्यू के लिए जाओ लेकिन जनरल नॉलेज के क्वेश्चन हर इंटरव्यू में पूछे जाते हैं और Patwari के लिए भी इतिहास, रसायन विज्ञान, भारतीय संविधान, खेल, दिवस, करंट अफेयर्स आदि विषय शामिल है।

पटवारी कैसे बने

पटवारी के प्रमुख कार्य

  • खेती किसानी, जमीन नक़्शे, जमीन की बिकवाना और खरीदी, जमीन का हस्तांतरण, आय और जाति का प्रमाण पत्र बनवाने आदि यह सभी कार्य Patwari द्वारा कराए जाते है।
  • राष्ट्रीय आयोजनों ने सहायता करना
  • प्राकृतिक आपदाओं के दौरान आपदा प्रबंधन अभियान में भाग लेना एवं सहयोग करने का होता है जिससे किसानों को लाभ प्रदान हो सके।
  • सरकार द्वारा संचालित योजनाएं जैसे निवास एवं जाति प्रमाण पत्र को बनवाने में आवेदक की सहायता करना।
  • ज़मीन को बिकवाने एवं खरीदवाने का कार्य पटवारी द्वारा ही कराया जाता है।
  • कृषि गणना, पशु गणना तथा अन्य आर्थिक सर्वेक्षण में सहयोग देना।

Patwari बनने के लिए पात्रता

Patwari बनने के लिए इंटरमीडिएट यानी 12 वीं पास होना बहुत जरूरी है इसके अलावा उसके पास कंप्यूटर कोर्स यानी सीसीसी सर्टिफिकेट का होना आवश्यक है।

आयु सीमा

पटवारी बनने के लिए आवेदक की आयु कम से कम 18 वर्ष और ज्यादा से ज्यादा 36 वर्ष होनी अनिवार्य है।

Patwari का वेतन मान कितना होता है ?

Patwari का वेतन मान ₹8500 से लेकर ₹20500 तक हो सकता है और इसकी ग्रेड पे ₹21500 है तो इस हिसाब से Patwari को 25 से 26 हजार रुपए महीने तक वेतन मिल जाता हैं।

पटवारी चयन परीक्षा

  • पटवारी पद सिलेक्शन के लिए कोई ऑनलाइन प्रक्रिया नहीं होती और ना ही कोई रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन की प्रक्रिया होती है इसके लिए राज्य सरकारों द्वारा अधिसूचना जारी की जाती है और इस अधिसूचना में पटवारी पद के लिए पात्रता और कितने पद चाहिए और आवेदन की तारीख संपूर्ण जानकारी होती है जिसके जरिए ऑफलाइन प्रार्थना पत्र दिया जाता है इस तरीके से अभ्यर्थी आवेदन कर सकता है।
  • इस पद के अलावा सरकार की योजनाओं में अधिकतर पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया होती है। आवेदन पत्र जमा करने के कुछ दिनों बाद यह अधिसूचना जारी की जाती है कि इसकी लिखित परीक्षा कब होगी उस परीक्षा को पास करने के बाद ही Patwari पद की नियुक्ति होती है।

परीक्षा पैटर्न 

Patwari की परीक्षा का पैटर्न मुख्य रूप से चार विषयों पर आधारित होता है इसमें जनरल नॉलेज मैथ्स जनरल हिंदी और ग्राम समाज का विषय शामिल होता है संपूर्ण परीक्षा 100 अंकों की होती है जिसमें से हर विषय पर 25-25 अंक होते हैं और सभी सवाल बहुविकल्पीय होते हैं यानी के एक प्रश्न के चार उत्तर होते हैं उसमें से आपको एक को सेलेक्ट करना पड़ता है चारों विषयों में से हर एक विषय पर 25 सवाल होते हैं और हर सवाल एक नंबर का होता है इस तरीके से पूरी परीक्षा में 100 सवाल पूछे जाएंगे जिनके 100 अंक होंगे। इस लिखित परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग भी होती है अगर आपने किसी सवाल का गलत विकल्प चुन लिया तो आपके उतने मार्क्स कम हो जाएंगे जितने क्वेश्चन का जवाब आपने गलत किया होगा।

Patwari भर्ती परीक्षा की तैयारी

जैसे कि हमने आपको अपने लेख में पटवारी बनने से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान की है लेकिन इस पद को हासिल करने के लिए आपको अपना टाइम टेबल सेट करने के साथ साथ बहुत ज़्यादा मेहनत भी करनी पड़ेगी जैसे-

  • सबसे पहले आपको पटवारी बनने के लिए पहला चरण क्लियर करना होगा जो है 12वीं कक्षा। आप 12वीं कक्षा किसी भी विषय को सिलेक्ट कर अच्छे नंबरों से पास होना है।
  • अपनी ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद आपको कंप्यूटर कोर्स करना है क्योंकि पटवारी बनने के लिए कंप्यूटर डिप्लोमा आवश्यक होता है। अगर आपने बीसीए, BSC computer science किया है तो आपको अलग से कोई भी कंप्यूटर कोर्स करने की जरूरत नहीं है।
  • अपनी डिग्री डिप्लोमा पूरा करने के बाद आपको पटवारी एग्जाम की तैयारी करनी है पटवारी चयन परीक्षा में हिन्दी, अंग्रेजी सहित कुल 5 विषयों का पेपर होता हैं।
  • एग्जाम्स की तैयारी करने के बाद आपको पटवारी बनने के लिए आवेदन करना है। जिसके बाद आपको एग्जाम्स देना होगा और उसके बाद भी घोषित हो जाएगा।
  • पटवारी परीक्षा में सफलता पूर्वक पास हो जाते हैं तो आपको डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए बुलाया जाता है और यदि आप के डाक्यूमेंट्स बिल्कुल सही होते हैं तो आपको इस जॉब के लिए नियुक्त कर लिया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here