ब्लड ग्रुप कितने प्रकार के होते हैं- Blood Group Chart In Hindi

Blood Group Kya Hota Hai और ब्लड ग्रुप कितने प्रकार के होते हैं एवं ब्लड ग्रुप चार्ट क्या होता है जाने सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

एक मानव शरीर में Blood का होना बहुत ज्यादा जरूरी माना जाता है क्योंकि शरीर में कई प्रकार की जो क्रिया प्रतिक्रिया होती है उसके लिए ब्लड एक वशवर्ती का कार्य करता है अक्सर ही आपने किसी मरीज को देखा होगा कि उसे ब्लड की कमी से एनीमिया बीमारी हो जाती है जोकि खून(Blood) की अत्यधिक कमी के कारण होती है या फिर किसी दुर्घटना में किसी व्यक्ति को चोट लगने पर रक्त अधिक बह जाता है जिससे उसे खून की कमी होजाती है जिसके बाद डॉक्टरों के द्वारा उपचार करने तथा खून को बढ़ाने की अनेकों दवाइयां का सेवन करने के लिए बोला जाता है

तब जाकर ब्लड की कमी को दूर किया जाता है ऐसे में जो Blood होता है वह कई प्रकार का Blood Group होता है जो कि अलग-अलग मानव शरीर में अलग-अलग प्रकार के देखने को मिलते हैं जिनके बारे में हम आपको विस्तार से बताने जा रहे हैं।

Blood (रक्त) क्या होता है

रक्त(Blood) एक प्रकार का शारीरिक तरल पदार्थ है जोकि शरीर की नसों(Cells) के अंदर सभी अंगों में एक समान रफ्तार से लगातार बहता रहता है यह एक प्रकार का गाढ़ा तरल पदार्थ होता है जोकि लाल रंग का होता है जिसमें चिपचिपाहट भी देखने को मिलती है ये Blood Plasma और रक्त के कणों के द्वारा मिलकर बनता है जो कि एक प्रकार का जीवित उत्तक होता है और यह सभी मानव शरीर में पाया जाता है किसी किसी शरीर में यह कम मात्रा में तो किसी में अधिक या फिर सामान्य होता है परंतु एक स्वास्थ्य मानव शरीर के लिए 11 से 15 पॉइंट हिमोग्लोबिन होना जरूरी माना जाता है।

Blood Group

Human Body Part List

Blood Group के प्रकार

सबसे पहले कार्य लैंडस्टाइनर ने ये पता लगाया था कि किसी एक व्यक्ति के खून को किसी दूसरे व्यक्ति में नहीं डाला जा सकता जब तक कि दोनों के समूहों का पता ना चल सके क्योंकि आरसीबी पर ही अनुवांशिक जनित पदार्थ की उपस्थिति और अनुपस्थिति के तौर पर रक्त समूह का पता लगाया जाता है जिसके बाद यदि कोई दो व्यक्ति का Blood Group सामान्य होता है तब जाकर प्रथम व्यक्ति का रक्त दूसरे व्यक्ति के शरीर में डाला जाता है। तो आइए हम आपको ब्लड ग्रुप कितने प्रकार के होते हैं उसके बारे में निम्नलिखित जानकारी देते हैं।

Blood Group कितने प्रकार के होते हैं

यदि देखा जाए तो मुख्य तौर पर जो रक्त होते हैं वह चार प्रकार के होते हैं जोकि A,B,AB तथा O होते हैं और यह रक्त समूह हमें अपने माता-पिता के द्वारा प्राप्त जीन के आधार पर मिलते है और यह रक्त समूह RHD Positive या फिर RHD Negative होते हैं जिसके आधार पर देखा जाए तो ऐसे आठ रक्त समूह बन जाते हैं जिसके बारे में हम आपको निम्नलिखित बताने जा रहे हैं।

  • A+(RHD Positive)
  • A–(RHD Negative)
  • B+(RHD Positive)
  • B–(RHD Negative)
  • AB+(RHD Positive)
  • AB–(RHD Negative)
  • O+(RHD Positive)
  • O–(RHD Negative)
Blood Group

बीपी (BP) कैसे चेक करे

Blood Group के बारे में विस्तृत जानकारी

अब हम आपको सभी Blood Group के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करेंगे जिससे आपको भी इन ब्लड ग्रुप को जानने का मौका मिल सके तो आइए निम्नलिखित हम कुछ विस्तृत जानकारी आपको देते हैं।

A+

यदि देखा जाए तो किसी व्यक्ति के शरीर में A+ Blood Group पाया जाता है तो उसके शरीर में रक्त की जो कोशिकाएं होती है उसमें एंटीजन एवं प्लाज्मा में B एंटीबॉडी की उपस्थिति देखने को मिलती है जिससे A+ समूह का व्यक्तिA+ और AB+ वाले ब्लड ग्रुप के व्यक्ति को आसानीपूर्वक अपना रक्त दे सकता है और इसके साथ ही साथ A+,A- और O+,O- वाले व्यक्ति के ब्लड ग्रुप से सरलतापूर्वक रक्त ले भी सकता है।

A–

यदि कोई व्यक्ति A- Blood Group का है तो उसकी रक्त कोशिकाओं पर एंटीजन एवं प्लाज्मा में B एंटीबॉडी की उपस्थिति देखने को मिलती है जिससे A- ब्लड ग्रुप का व्यक्ति A+,A- & AB+,AB- वाले ब्लड ग्रुप के व्यक्ति को आसानी से अपना Blood दे सकता है तथा उसके साथ ही साथ यह A– और O– ब्लड ग्रुप के व्यक्ति से रक्त ले भी सकता है।

B+

यदि कोई व्यक्ति B+ Blood Group का है तो उसके Blood में रेड सेल्स पर B एंटीजन और प्लाज्मा में A एंटीबॉडी पाई जाती है। यदि कोई व्यक्ति B+ ब्लड ग्रुप का है तो वह केवल B+ और AB+ वाले ब्लड ग्रुप के व्यक्ति को ही अपना रक्त दे सकता है तथा उसके साथ ही साथ B+,B- औरO+,O- ब्लड ग्रुप वाले व्यक्ति से रक्त ले भी सकता है।

B–

B- Blood Group के व्यक्ति की रक्त की कोशिकाओं पर एंटीजन और प्लाज्मा में एंटीबॉडी की उपस्थिति दर्ज होती है जिससे B- ब्लड ग्रुप वाला व्यक्ति माइनस B+,B-,AB+,AB- वाले Blood Group के व्यक्ति को रक्तदान कर सकता है और उसके साथी साथ केवल B-,O- वाले Blood Group के व्यक्ति से ब्लड प्राप्त कर सकता है।

AB+

यदि कोई व्यक्ति AB+ Blood Group का है तो उसके रक्त में रेड ब्लड सेल्स पर A,B एंटीजन देखने को मिलता है और प्लाज्मा में कोई भी एंटीबॉडी नहीं होती यह ब्लड ग्रुप का व्यक्ति केवल AB+ ब्लड ग्रुप के व्यक्ति को ही रक्त दे सकता है और किसी भी ब्लड ग्रुप के व्यक्ति से आसानी से ये रक्त ले सकता है।

AB–

AB- वाले व्यक्ति के Blood Group में जो लाल रक्त कोशिकाएं होती हैं उस पर A,B एंटीजन होता है और प्लाज्मा में कोई भी एंटीबॉडी नहीं पाई जाती है ऐसे में इस Blood Group का व्यक्ति केवल AB+,AB- ब्लड ग्रुप के व्यक्ति को ही रक्त दे सकता है और AB-,A-,B-,O- जैसे ब्लड ग्रुप के व्यक्ति से यह रक्त ले सकता है।

O+

जो व्यक्ति O+ Blood Group का होता है उसके रक्त में लाल कोशिकाओं में कोई भी एंटीजन नहीं पाया जाता है और Plasma में A और B दोनों ही प्रकार के एंटीबॉडी देखने को मिलते हैं इस Blood Group का व्यक्ति O+,A+,B+,AB+ Blood Group के व्यक्ति को आसानी से रक्तदान कर सकता है और O+ और O- ब्लड ग्रुप के व्यक्ति से यह Blood ले सकता है।

O-

O- Blood Group के व्यक्ति के रक्त की लाल कोशिकाओं में A,B दोनों में किसी भी तरह का एंटीजन नहीं देखने को मिलता परंतु प्लाज्मा में दोनों ही एंटीबॉडी पाई जाती हैं यह सबसे Rare Blood Group होता है जो कि किसी भी Blood Group के व्यक्ति को रक्तदान कर तो सकता है परंतु केवल O- Blood Group वाले व्यक्ति से ही रक्त ले सकता है।

Leave a comment