Current और Saving Account क्या है – चालू खाता और बचत खाता की जानकारी हिंदी में

0
74

Current And Saving Account Kya Hota Hai | चालू खाता और बचत खाता खोलने की प्रक्रिया क्या है |  Diffrence Of Current And Saving Account | Current और Saving Account Online Process

आज के समय में पैसे कमाना बहुत ही मुश्किल काम है इसलिए हर व्यक्ति अपने भविष्य के लिए थोड़ी बहुत सेविंग करता है क्यूंकि आने वाले समय का कुछ पता नहीं होता है कब कैसी परिस्थिति हमारे सामने आ जाए। अपने पैसे की सेविंग करने के लिए हम सभी लोग ज़्यादातर बैंको में ही पैसे जमा करते हैं। इसलिए जब हम बैंक अकाउंट खुलवाने जाते हैं तो हमारे सामने दो ऑप्शन आते हैं Current और Saving Account। ज़्यादातर लोगो को बैंक से रिलेटेड जानकारी नहीं होती हैं तो चलिए फिर आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से Current और Saving Account से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करें। यदि आप भी अपना Current और Saving Account खुलवाना चाहते हैं और आपको इसके बारे में जानकारी नहीं है तो हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

करंट या चालू खाता

करंट अकाउंट का उपयोग ज्यादातर कारोबारी फर्म कंपनियां सार्वजनिक उद्यमों एवं बिजनेसमैन आदि करते हैं क्योंकि इन लोगों को दिन भर में कई बार बैंक से लेनदेन करने की आवश्यकता पड़ती है। इस अकाउंट के माध्यम से आप प्रतिदिन कितना भी लेनदेन कर सकते हैं। इस अकाउंट में आपको कोई ब्याज नहीं दिया जाता। ज़्यादातर लोग प्रतिदिन हजारों लेन देन फ्री में करवाने के लिए ही यह खाता खुलवाते हैं। इस अकाउंट से कारोबारी अपने टर्नओवर मुनाफे आदि से ओवरड्राफ्ट भी कर सकते हैं क्योंकि ओवरड्राफ्ट इसका सबसे इंपॉर्टेंट पॉइंट है। इस अकाउंट में आप जितनी बार चाहे रकम निकाल और जमा कर सकते हैं। वैसे तो चालू खाता कोई भी साधारण व्यक्ति खोल सकता है लेकिन इसके अलावा

किसी प्रमुख व्यक्ति सिंगल अथवा जॉइंट रूप में , सोशल प्रोप्राइटरी , सिंगल फर्म , पार्टनरशिप फर्म , हिंदू अन डिवाइडेड फैमिली , लिमिटेड कंपनी , क्लब , सोसायटी , ट्रस्ट , एग्जीक्यूटिव , एडमिनिस्ट्रेटर एवं अन्य सरकारी अथवा अर्ध सरकारी संस्थाओं , स्थानीय प्राधिकरण के द्वारा चालू खाता खुलवाया जा सकता है।

Current और Saving Account क्या है

सेविंग या बचत खाता

सेविंग अकाउंट को खाता भी कहा जाता है। इस अकाउंट मैं आप अपने बचाए हुए पैसों को थोड़ा-थोड़ा करके जमा कर सकते हैं जिसमें आपको 4% तक का ब्याज मिल जाता है। कारण व्यक्ति के लिए सेविंग अकाउंट बहुत ही लाभदायक होता है। हर बैंक में बचत खाते की न्यूनतम सीमा अलग-अलग निर्धारित की जाती है जो समय के अनुसार बदलती रहती है। इस खाते में यदि आप का बैलेंस कम हो जाता है तो आपके अकाउंट से चार्ज करना शुरू हो जाता है जिसके लिए आपको एक न्यूनतम धनराशि अपने अकाउंट में रखनी जरूरी होती है।

Diffrence Of Current And Saving Account

  • चालू खाते में आप प्रतिदिन जितनी बार चाहे उतनी बार पैसों का लेन देन बिना किसी चार्ज के कर सकते जबकि सेविंग अकाउंट में 5 बार से ज्यादा लेनदेन करने पर आपको चार्ज देना पड़ता है।
  • चालू खाते हैं लोगों को ओवरड्राफ्ट की सुविधा प्रदान की जाती हैं मतलब कि आप अपनी जमा रकम से भी ज्यादा रकम निकाल सकते हैं जबकि सेविंग अकाउंट में इस तरह की कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है।
  • करंट अकाउंट में एटीएम ओर नेट बैंकिंग की सुविधा दी जाती जिसमें किसी भी प्रकार की लिमिट का सामना नहीं करना पड़ता हैं जबकि सेविंग अकाउंट में यह सब सुविधाएं मिलती तो है लेकिन कुछ लिमिट के साथ।
  • करंट अकाउंट में आपको किसी भी प्रकार का ब्याज नहीं प्रदान किया जाता जबकि सेविंग अकाउंट में 4% का ब्याज को दिया जाता है।
  • चालू खाते में यदि आपके अकाउंट में पैसे कम भी होते हैं तो उससे कोई फर्क नहीं पड़ता जबकि सेविंग अकाउंट में आपके अकाउंट में निर्धारित न्यूनतम रकम होनी जरूरी होती है क्योंकि अगर रकम कम होगी तो आप का चार्ज कटना करना शुरू हो जाता है।
  • बिजनेस करने वाले लोगों के लिए करंट अकाउंट सबसे ज्यादा सुविधाजनक होता है लेकिन अगर आप एक नॉर्मल व्यक्ति है तो आपके लिए सेविंग अकाउंट सबसे बेस्ट ऑप्शन रहेगा।
Current And Saving Account

करंट अकाउंट खुलवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • पैन कार्ड
  • एड्रेस प्रूफ
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

करंट अकाउंट खुलवाने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अपने पसंदीदा नजदीकी किसी बैंक शाखा में जाना है। आजकल ऑनलाइन भी Account ओपन के लिए आवेदन किए जाते हैं। आप चाहे तो ऑनलाइन भी आवेदन कर सकते हैं।
  • बैंक के नजदीकी शाखा में जाकर आपको Current Account के बारे में बैंक कर्मी से जानकारी प्राप्त करनी है। और करंट अकाउंट आवेदन फार्म लेना है।
  • आवेदन फॉर्म लेकर आपको सभी आवश्यक जानकारी सही-सही भरना है। साथ ही आवश्यक दस्तावेजों की फोटोकॉपी भी संलग्न करना है। पूरी तरह कंप्लीट फॉर्म भरने के बाद आपको बैंक में फार्म जमा करना है।
  • आवेदन फॉर्म सबमिट करने के बाद आपका  3 वर्किंग डेज के अंदर खाता ओपन कर दिया जाएगा। और खाते से संबंधित सभी आवश्यक दस्तावेज जैसे चेक बुक , ATM कार्ड आदि प्रदान कर दिए जाएंगे।
करंट अकाउंट खुलवाने की प्रक्रिया

सेविंग अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • वोटर आईडी कार्ड
  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

ऑनलाइन सेविंग अकाउंट खोलने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले अपने चयनित बैंक के ऑनलाइन वेब पोर्टल पर जाना है।
  • वेबसाइट पर लॉग इन करने के लिए एक ऑनलाइन अकाउंट बनाने की आवश्यकता पड़ सकती है. अतः वेबसाइट के लिए एक अकाउंट बना लें।
  • लॉगइन करने के बाद नए अकाउंट बनाने वाले पेज पर जाएँ। इस पेज पर ऑनलाइन आवेदन को भरें।
  • इसे भरते हुए अपना नाम, आवासीय पता आदि की जानकारी देनी है और साथ ही इन सबके प्रमाण भी अपलोड करने है। कई बैंक इन प्रमाणों की हार्डकॉपी की भी मांग करते हैं।इसके बाद बैंक अपना प्रतिनिधि भेजता है।अतः बैंक जाने की आवश्यकता नहीं है।
  • इस औपचारिकताओं के बाद बहुत कम समय के अन्दर अकाउंट खुल जाता है।

ऑफलाइन सेविंग अकाउंट खोलने का तरीका

  • सबसे पहले आप अपने आवश्यकतानुरूप किसी एक बैंक का चयन कर लें। बैंक अकाउंट खुलवाने के लिए कम से कम लगने वाली राशि अपने पास रख लें।
  • बैंक अकाउंट खोलने के लिए कई तरह के आवश्यक दस्तावेज़ो की आवश्यकता पड़ती है। इन दस्तावेजों को लेकर अपने चयनित बैंक के सबसे नजदीकी ब्रांच में जाएँ और ऑफलाइन अकाउंट बनवाने का फॉर्म प्राप्त करें। इस फॉर्म के सभी आवश्यक information के साथ बहुत सावधानी से भरें।
  • भरे हुए फॉर्म के साथ सभी आवशयक दस्तावेजों की ज़ेरॉक्स प्रतियों को संलग्न करें तथा बैंक प्रतिनिधि के पास जमा कर दें।
  • जमा करने के 1 से 12 दिनों के अन्दर आपका बैंक अकाउंट खुल जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here