IAS Officer कैसे बने- आईएएस ऑफिसर की तैयारी कैसे करें,योग्यता व सभी जानकारी

0
248

IAS Officer Kya Hota Hai | आईएएस ऑफिसर कैसे बने | आईएएस ऑफिसर की तैयारी कैसे करें | IAS Officer Ki Full Form |आईएएस ऑफिसर एग्जाम के लिए अप्लाई कैसे करें

आप और हम में से बहुत से लोग ऐसे हैं जिनका सपना डॉक्टर, इंजीनियर, टीचर बनने का होता है लेकिन हम सब में से बहुत से लोगों का सपना  आईएएस अफसर बनकर देश की सेवा करने का होता है और अपना और देश का नाम रोशन करना चाहते है। लेकिन एक आईएएस ऑफिसर बनना इतना आसान नहीं होता है क्यूंकि  इसके लिए काफी हार्ड वर्क के साथ साथ स्मार्ट स्टडी भी जरुरी होती हैं। IAS Officer बनने के लिए सभी को बहुत मेहनत करनी पढ़ती है। क्योंकि इसके बावजूद भी कभी-कभी सफलता हासिल नहीं कर पाते हैं जिसका कारण है जानकारी कम होना।बहुत से ऐसे स्टूडेंट होते हैं जिन्हें आईएएस योग्यता आईएएस के लिए आयु आईएएस के कार्य और आईएएस के सिलेबस के बारे में जानकारी नहीं होती। जिसके कारण वे एक सही रणनीति से आईएस की एग्जाम की तैयारी नहीं कर पाते।

आईएएस ऑफिसर किसे कहते है?

आईएएस की फुलफॉर्म प्रशासनिक सेवा अधिकारी होती हैं जिसे इंग्लिश में INDIAN ADMINISTRATIVE SERVICE कहा जाता है।आईएएस अफसर बनना हमारे देश में सबसे कठिन और प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक माना जाता है जिसे संघ लोक सभा उपयोग द्वारा आरंभ किया जाता है। यूपीएससी भारत की केंद्र संस्था है इस संस्था के द्वारा ही यह परीक्षाएं प्रारंभ करवाई जाती है। जैसे के आईएएस आईपीएस, आईएफएस, एनडीए, सीडीएस। यह लगभग 24 पदों के लिए परीक्षा का आयोजन करती है और जो उम्मीदवार सिविल सर्विस की परीक्षा में सबसे टॉप रैंक हासिल करते हैं, उन्हें आईएएस अधिकारी बनया जाता है।

IAS बनने के लिए आपको अलग तरीके से पढ़ाई करनी पढ़ती है जिसमें मेहनत और लगन की जरूरत होती है। अक्सर ऐसा कहा जाता है कि आईएएस और बड़ी परीक्षाओं को पास करने के लिए कई सालों का समय लगता है। ऐसा कुछ नहीं है यह सिर्फ आपकी सोच पर निर्भर होता है। अगर आपके अंदर आईएएस बनने का जज्बा है तो फिर आप आईएएस क्या किसी भी एग्जाम को बहुत ही कम समय में पास कर सकते हैं।

IAS Officer की सेलरी

आईएएस ऑफिसर की सैलरी प्रति माह 56,100/- से शुरू होती है और कैबिनेट सचिव पद के लिए 2,50,000/- तक जा सकती है।

आईएएस अफसर के कर्तव्य

  • IAS अधिकारियों को विभिन्न स्तरों पर सरकारी मामलों को संभालने का काम सौंपा जाता है, जिसमें नीतियों का निर्धारण और संबंधित मंत्रालयों के परामर्श शामिल होते हैंं।
  • उनका कार्य, कार्यान्वयन की प्रक्रिया का पर्यवेक्षण करना और महत्वपूर्ण स्थलों और स्थानों की यात्रा करना है।
  • IAS अधिकारियों को धन के संवितरण की भी देखभाल करनी होती है। इसके साथ ही IAS अधिकारी संसद या राज्य विधान सभाओं के प्रति जवाबदेह भी होते हैं।

आईएएस शब्द से जुड़े कुछ फुल फॉर्म

IAS- Indian administration service

UPSC- union public service commission

IFS- Indian foriegners service

IPS- Indian police service

DM- district magistrate

IRS- internal rewa news service

IAS Officer बनने के लिए कितनी बार ट्राय किया जा सकता हैं ?

  • सामान्य वर्ग के छात्र 6 बार कर सकते हैं।
  • ओबीसी के छात्रों के लिए 9 बार प्रयास करने की सीमा रखी गई हैं।
  • अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोग जितनी बार चाहे उतनी बार आईएएस एग्जाम दे सकते हैं।

आईएएस अफसर बनने की योग्यता

1- नागरिकता –

आईएएस अफसर बनने के लिए आपकी नागरिकता भारत, नेपाल या भूटान की होना आवश्यक है।

2-  शैक्षणिक योग्यता-

 IAS बनने के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक ग्रेजुएट होना आवश्यक है। इसके लिए आपको अधिक नंबर की आवश्यकता नहीं है बल्कि आप पासिंग नंबर से भी इसके लिए आवेदन कर सकते हैं।

3- उम्र सीमा –

 IAS बनने के लिए आयु सीमा 21 वर्ष है और अधिकतम आयु सीमा हर वर्ग के हिसाब से अलग-अलग निर्धारित की गई है तो चलिए जानते हैं  अलग-अलग वर्ग के हिसाब से उनकी आयु की छूट

General Category- 32  वर्ष

OBC- 35 वर्ष ( 3 वर्ष की छूट)

SC/ST- 37 वर्ष ( 5 वर्ष की छूट)

EWS-  32 वर्ष (  कोई छूट नहीं)

विकलांग-  42 वर्ष (  10 वर्ष की छूट)

4- शारीरिक योग्‍यता –

लंबाई – पुरुष उम्‍मीदवार की लंबाई कम से कम 165 सेंटीमीर होनी चाहिए। 160 सेंटीमीटर के SC/OBC उम्‍मीदवार भी एप्‍लाई कर सकते हैं। वहीं महिला उम्‍मीदवारों की लंबाई 150 सेंटीमीटर होनी चाहिए। 145 सेंटीमीटर की SC/OBC महिला उम्‍मीदवार भी आवेदन कर सकती हैं। 

 चेस्‍ट-  पुरुषों के लिए कम से कम 84 सेंटीमीटर। महिलाओं के लिए कम से कम 79 सेंटीमीटर।

 दृष्टि-  स्‍वस्‍थ आंखों का विज़न 6/6 या 6/9 होना चाहिए। कमजोर आंखों का विज़न 6/12 or 6/9 होना चाहिए।

आईएएस अफसर की परीक्षाएं

आईएएस बनने के लिए आपको आईएएस की परीक्षा को पास करना होगा यह परीक्षा तीन  चरणों में होती हैं। उम्मीदवार इस परीक्षा में उत्तीर्ण होते हैं और उन्हें उनकी रैंक के अनुसार ही आईएएस अधिकारी बनाया जाता है।

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

प्रारंभिक परीक्षा आईएएस की फर्स्ट स्टेट होती है जिसे क्लियर करने के बाद उम्मीदवार सेकंड स्टेज में जाता है। यूपीएससी द्वारा आयोजित  सिविल परीक्षा में नई परीक्षा प्रणाली के अनुसार वर्तमान में प्रारंभिक परीक्षा में 2 प्रश्न उत्तर होते हैं। जनरल एबिलिटी टेस्ट और सिविल सर्विस एप्टिट्यूड टेस्ट।

IAS Officer सिलेबस फॉर पेपर-1

  • Current Affairs
  • General Science
  • History of India
  • Environment
  • Indian Polity And Governance
  • Governance
  • Social Development & Economic

आईएएस सिलेबस फॉर पेपर-2

  • Problem Solving or Decision Making
  • General Mental Ability
  • Comprehension
  • Data Interpretation
  • Analytical & Logical Reasoning
  • Interpersonal Skills Including Communication Skills

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

प्रारंभिक परीक्षा के बाद दूसरा चरण मुख्य परीक्षा होती है। उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद मुख्य परीक्षा दे सकते हैं। इसके लिए लगभग दो-तीन महीने का समय दिया जाता है। जिस प्रकार प्रारंभिक परीक्षा पूरी तरह ऑब्जेक्टिव प्रश्न पर आधारित होती है, उसी तरह मुख्य परीक्षा में अलग-अलग शब्द सीमा वाले वर्णनात्मक क्वेश्चन पूछे जाते हैं  उन प्रश्नों का आपको अपने शब्दों में उत्तर लिखना होता है। और इसमें सफलता पाने के लिए आप की लेखन शैली अच्छी होनी चाहिए। यह आईएएस की एक महत्वपूर्ण चरण होता है और इस पर ही आपकी सफलता निर्धारित होती है।

साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा पास करने के बाद उम्मीदवार का साक्षात्कार होता है।  यह आईएएस एग्जाम या यूपीएससी का अंतिम चरण होता  इंटरव्यू होता है जिसमें आपको अगर सफलता मिल जाती है तो आपकी नौकरी पक्की हो जाती है। इंटरव्यू का कोई पैटर्न नहीं होता है। इसमें आप से किसी विशेष से भी जुड़ा क्वेश्चन पूछा जाता है। आपको बता दूं कि आईएएस इंटरव्यू के सवाल थोड़े अलग किस्म के होते हैं।

ट्रेनिंग

चयनित उम्‍मीदवारों को एक साल की ट्रेनिंग के लिए पहले मसूरी और फिर हैदराबाद भेजा जाता है। भावी पुलिस अधिकारियों को भारतीय दंड संहिता, स्‍पेशल लॉ और क्रिमिनोलॉजी की ट्रेनिंग दी जाती है। ऑफिसर्स को फिजिकल ट्रेनिंग भी दी जाती है।

आईएएस एग्जाम्स देने के लिए यह बुक्स आपकी हेल्प करेंगी

  • इंडियन पॉलिटी फॉर सिविल सर्विसेज एग्जामिनेशंस (एम। लक्ष्मीकांत द्वारा लिखित) – Politics की किताब
  • सर्टिफिकेट फिजिकल एंड ह्यूमन जियोग्राफी (गोह चेंग लेओंग द्वारा लिखित) – Geography की किताब
  • इंडियन इकोनॉमी (रमेश सिंह द्वारा लिखित) – Economics की किताब
  • इंडियन आर्ट एंड कल्चर (नितिन सिंघानिया द्वारा लिखित) – Culture की किताब
  • ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ माडर्न इंडिया (राजीव अहीर द्वारा लिखित) – Modern India की किताब
  • इंडिया इयर बुक – Current Affairs की रेफेरेंस किताब

आईएएस एग्जाम के लिए अप्लाई करने की प्रक्रिया

आईएएस एग्जाम
  • यहां आप एग्जाम की भर्ती के बारे में जान सकते हैं।
  • इसके बाद आपको किसी भी ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।
  • आईएएस की फीस ऑनलाइन आवेदन के लिए हर वक्त के हिसाब से अलग-अलग रखी गई है।
  • ऑनलाइन फीस जमा करने के बाद आप आईएएस एग्जाम के लिए अप्लाई कर पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here