ISI Mark क्या है- ISI Full Form, ‎Indian Standards Institution जानकारी हिंदी में

0
630

ISI Mark Kya Hai | ISI Full Form kya Hai | आईएसआई मार्क की फुल फॉर्म क्या है | आईएसआई मार्क क्यों जरूरी है |आईएसआई मार्क किस को प्रदान किया जाता है

दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं के ISI Mark क्या है।  आप लोग जब भी बाजार कोई सामान घर का खरीदने जाते होंगे तो आपने काफी बार आई एस आई  के बारे में सुना होगा जब भी कोई की चीज खरीदी जाती है तो दुकानदार आपसे यही बोलता है कि आप यह लीजिए क्योंकि इसमें ISI Mark लगा हुआ है। तो आप यही सोचेंगे कि इस मार्क वाला सामान बाकी और सम्मान से काफी अच्छा होगा।पर क्या दोस्तों आप लोग जानते हैं कि यह होता क्या है अगर नहीं तो चलिए आज हम आपको अपना आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे हैं कि ISI Mark क्या होता है

ISI Mark क्या है?

ISI एक तरह का सर्टिफिकेट है जो प्रोडक्ट के लिए कंपनी को प्रदान किया जाता है। भारत में ऐसी कई सरकारी मानक संस्थान है जो इन प्रोडक्ट को सही तरीके से टेस्ट करते हैं।अगर आप इस तरह की कोई भी प्रोडक्ट बना रहे हैं और आप दिखाना चाहते हैं कि आपका प्रोडक्ट हंड्रेड परसेंट सेफ है तो इसे साबित करने के लिए आपको भारत मानक संस्थान में आवेदन करना होगा इसके बाद वहां पर आपको अपना प्रोडक्ट को सबमिट कर देना होगा |

ISI Mark
iso in hindi iso kya hota hai;

Indian Standards Institution

भारत मानक संस्थान में आपका प्रोडक्ट हर तरह के स्टैंडर्ड से होकर गुजरती है यानी आपके प्रोडक्ट को काफीबारीकी से जांचा जाता है और आप का प्रोडक्ट भारतीय मानक संस्थान के द्वारा पास हो जाता है और आपके प्रोडक्ट के लिए ISI Mark दे दिया जाता है इसी तरह से कुछ कंपनियां करती हैं वह जब भी कोई प्रोडक्ट बनाती है तो अपने प्रोडक्ट को क्वालिटी टेस्ट के लिए भारतीय मानक संस्थान में बेच देती हैं और इसके बाद उस प्रोडक्ट की गहराई के जांच होने के बाद कंपनी को इस प्रोडक्ट के लिए ISI MARK का सर्टिफिकेट दे दिया जाता है

ISI Mark की फुल फॉर्म क्या है?

ISI का फुल फॉर्म है Indian Standard Institute इसका हिंदी में अर्थ है भारत मानक संस्थान।

ISI Full Form,

आईएसआई मार्क क्यों जरूरी है?

आईएसआई भारतीय मानक संस्थान के लिए खड़ा है, एक निकाय की स्थापना की गई जब भारत ने औद्योगिक उत्पादन में गुणवत्ता के विकास और गुणवत्ता बनाए रखने के लिए आवश्यक मानक बनाने के लिए स्वतंत्रता प्राप्त की। … बीआईएस एक महीने के भीतर रिपोर्ट की सत्यता की जांच करने और आईएसआई मार्क के उपयोग के लिए लाइसेंस प्रदान करने वाला है।

ISI MARK किस को प्रदान किया जाता है?

आईएसआई मार्क एक उत्पाद को दिया जाता है, जिसे बीआईएस की अनुमोदित प्रयोगशाला द्वारा अच्छी तरह से जांचने के बाद। इस प्रक्रिया में आवेदक को भरे हुए आवेदन पत्र को आवश्यक दस्तावेजों के साथ जमा करना होता है और मांग की जाती है कि शाखा कार्यालय जिसके निर्माण इकाई स्थित है, के शुल्क की मांग की जाए।

उन उत्पादों की सूची जिन्हें आईएसआई पंजीकरण की आवश्यकता है

निम्नलिखित उत्पादों के लिए, आईएसआई पंजीकरण अनिवार्य है:

  • सीमेंट
  • स्टील के उत्पाद
  • विद्युत ट्रांसफार्मर
  • खाद्य उत्पाद
  • सिलेंडर, वाल्व, और नियामक
  • बैटरियों
  • संधारित्र
  • विद्युत मोटर
  • स्टेनलेस स्टील प्लेट
  • क्लिनिकल थर्मामीटर
  • पैकेज्ड ड्रिंकिंग वॉटर
  • स्टोव
  • स्टील के तार और स्टील की चादरें
  • रसोई उपकरणों
ISI Mark क्या है

आईएसआई मार्क के लाभ

आईएसआई मार्क के कई फायदे हैं। आईएसआई के लाभों की सूची नीचे वर्णित है:

  • यह ग्राहक की संतुष्टि को बढ़ाने में मदद करता है।
  • जहां ग्राहक उत्पाद की गुणवत्ता से असंतुष्ट है, तो उत्पाद बेचने वाली कंपनी एक नए उत्पाद के साथ विनिमय करेगी।
  • प्रत्येक ग्राहक के लिए, उत्पाद की सर्वोत्तम गुणवत्ता प्राप्त करने के लिए यह चिह्न संभव बनाता है।
  • यदि किसी ग्राहक को पता चलता है कि आईएसआई वाला उत्पाद खराब गुणवत्ता का है, तो ग्राहक उत्पाद के निर्माता के खिलाफ कार्रवाई कर सकता है।
  • यह उत्पाद के निर्माताओं और मालिकों को अपने व्यवसाय को बढ़ाने में मदद करता है।

Conclusion

प्रिय दोस्तों उम्मीद करती हूं कि आपको मेरा आर्टिकल के माध्यम से समझ आ गया होगा कि आई एस आई मार्क क्या होता है अथवा यह सामान के लिए क्यों जरूरी होता है आगे भी इसी तरह आपको अपना आर्टिकल के माध्यम से और चीजों के बारे में जानकारी प्रदान करती रहूंगी अगर आपको कोई भी कठिनाई है तो आप हम से नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं आप का कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here