Cancel Cheque क्या होता है, इसके क्या फायदे हैं और कैंसिल चेक कैसे बनाएं?

Cancel Cheque Kya Hota Hai और कैंसिल चेक कैसे बनाएं एवं इसके क्या फायदे हैं तथा इसकी आवश्यकता क्यों पड़ती है

आज के आधुनिक युग में बहुत से ऐसे कम लोग हैं जिनका अपना बैंक अकाउंट नहीं होगा लेकिन अधिकतर लोग आजकल अपना बैंक अकाउंट रखते हैं और चेक का इस्तेमाल तो अब आम बात हो गई है लेकिन आज के जमाने में भी बहुत से कम पढ़े लिखे लोग अपनी पेमेंट पासबुक के द्वारा निकालते हैं। जब हम चेक के द्वारा किसी को पेमेंट करना चाहते हैं या अपने लिए ही सेल्फ का चेक बनाते हैं और उसमें कुछ गलती हो जाती है जैसे कि हमने नाम गलत लिख दिया या डेट गलत लिख दी तो उसमें ओवर राइटिंग कर दी तो बैंक उसे कैश नहीं करती इसलिए हम उस चेक को कैंसिल कर देते हैं और उस पर लिख देते हैं Cancel Cheque इसी बारे में हम आपको बताएंगे यह कैंसिल चेक क्या होता है इसके क्या फायदे हैं Cancel Cheque कैसे बनाया जाता है ?

कैंसिल चेक क्या होता है ?

आमतौर पर हमारी जो चेक बुक होती है उससे हम कैंसिल चेक बना सकते हैं इसके लिए हमें अपने चैक पर दो तेड़ी लाइने बनाकर उसके बीच में कैंसल्ड चेक लिखना होता है यह दो लाइन में हम चेक के बाएं कोने से नीचे की तरफ से और दाएं कोने ऊपर की तरफ को बनाते हैं और इसमें इतना फैसला रखते हैं इसके बीच में कैंसिल लिखा जा सके कैंसिल लिखने के बाद में उसे एक रिकॉर्ड के रूप में रखा जाता है और उसका कोई इस्तेमाल नहीं कर सकता इस तरह आप किसी भी बैंक की चेक बुक में चाहें आपके अलग-अलग बैंकों में खाते हैं उसकी चेक बुक से आप कैंसिल चेक बना सकते हैं।

कभी-कभी हम चेक बनाते समय नाम लिखने में या डेट डालने में गलती कर देते हैं तो भी हमें चेक फाड़कर नहीं फेंकना चाहिए उस पर कैंसिल लिख देना चाहिए ताकि चेकों का सीरियल नंबर खराब ना हो।

Cancel Cheque

ईपीएफ पासबुक कैसे डाउनलोड करें

Cancel Cheque की आवश्यकता क्यों पड़ती है ?

बीमा पॉलिसी के लिए

कई बार बीमा कंपनियों से विभिन्न बीमा पॉलिसी जैसे हेल्थ इंश्योरेंस करवाते हैं तो कैंसिल चेक देने की आवश्यकता पड़ती है।

पेमेंट लेने के लिए

यदि आप किसी भी तरह की कोई पेमेंट किसी कंपनी से लेते हैं तो या फिर ऑनलाइन पेमेंट करनी होती है तो ऐसे में कंपनी आपसे कैंसिल चेक की मांग कर सकती है।

ईपीएफ निकालने में

निजी क्षेत्र के कर्मचारियों का पैसा कटकर ईपीएफ में रिटायरमेंट फंड रूप में जमा होता है। जब ईपीएफ निकालने के लिए कर्मचारी आवेदन करता है तो उससे पीएफ निकालने के लिए आवेदन फॉर्म के साथ कैंसिल चेक भी देने को कहा जाता है।

ऑनलाइन शॉपिंग की किसी वेबसाइट को अपने प्रोडक्ट बेचना शुरू करने से पहले Cancel Cheque देना

जब हम किसी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट को अपना कोई प्रोडक्ट सेल करने का काम करना चाहते हैं जैसे एमाजोन,फिलिपकार्ट। तो हमें उस वेबसाइट पर एक बिजनेस अकाउंट बनाना पड़ता है और हमें अपने बिजनेस और बैंक अकाउंट के बारे में सारी जानकारी देनी पड़ती है और इसके साथ ही एक कैंसिल चेक भी देना पड़ता है ताकि उस कंपनी को पता चल जाए कि इनका बैंक अकाउंट है और वह इसे प्रुफ के तौर पर मांगती है।

इन्श्योरेंस करवाने में

जब हम अपना किसी इंश्योरेंस कंपनी में इंश्योरेंस कराते हैं और जब फॉर्म भरने की फॉर्मेलिटी पूरी करते हैं तो तो हमें और कागजातों के साथ एक कैंसिल चेक भी देना होता है ताकि इंश्योरेंस कंपनी को पता चल जाए कि इनका किसी बैंक में अकाउंट भी है।

Cancel Cheque

बैंक चेक (Bank Cheque) कैसे भरते हैं

कैंसिल चेक से क्या क्या जानकारी मिलती हैं ?

  • खाता धारक का नाम
  • बैंक खाता नंबर
  • आईएफएससी कोड
  • एमआईसीआर
  • बैंक का नाम
  • शाखा का नाम

कैंसिल चेक बनाते समय ध्यान रखने योग्य बातें

  • Cancel Cheque या फिर कोई अन्य चेक बनाते समय आपको नीले या काले रंग के पेन का ही इस्तेमाल करना है इस बात का खास ख्याल रखेगी क्योंकि अगर आप दो अलग-अलग पेन का इस्तेमाल करेंगे तो आपका चेक खारिज भी हो सकता है।
  • दो समांतर तिरछी लाइनों और उनके बीच Cancelled शब्द लिखने के अलावा कुछ भी ​नहीं लिखना है।
  • अगर आपका अधिकारी आपसे कैंसिल चेक पर हस्ताक्षर करके देने को कहता है तो, उसे आप नियमों का हवाला देकर इनकार कर सकते हैं। या फिर उससे कंपनी के लेटरहेड पर डिक्लेयरेशन ले सकते हैं। या फिर उसके ईमेल से अपने ईमेल पर कैंसिल चेक देने की रिक्वेस्ट मंगा सकते हैं। ताकि, किसी तरह की गडबडी होने पर आपके पास उनके अनुरोध का कोई सबूत रहे।

Leave a comment