महिला पुलिस कैसे बने- Mahila Police भर्ती योग्यता, सैलरी व चयन प्रक्रिया जानें

महिला पुलिस कैसे बने और Mahila Police बनने की प्रक्रिया क्या है एवं सैलरी कितनी होती है व भर्ती के लिए योग्यता, सैलरी व चयन प्रक्रिया जानें

आजकल हर युवा चाहे वह युवक हो या युक्ति एक बेहतर नौकरी की तलाश में रहता है उसके लिए वह दिन प्रतिदिन कठिन से कठिन मेहनत भी करता है और एक सफल जीवन यापन के लिए बेहतर नौकरी भी करता है परंतु ज्यादातर युवाओं का सपना होता है कि वह पुलिस विभाग में जरूर नौकरी करें उसके लिए वह दिन रात मेहनत भी करते हैं परंतु जहां तक महिला का सवाल है उनका पुलिस विभाग में नौकरी का अनुपात को देखा जाए तो काफी कम है लेकिन फिर भी वर्तमान समय में यह अनुपात बढ़ता ही जा रहा है क्योंकि महिलाओं में भी पुलिस विभाग में जाने का एक जुनून आ चुका है इसके लिए वह कठिन परिश्रम भी करती हैं

यदि कोई महिला पुलिस विभाग में अच्छी पोस्ट पर नौकरी करना चाहती है तो उसके लिए बहुत महत्वपूर्ण साबित होगा क्योंकि  Mahila Police बनने के लिए सभी जानकारी निम्नलिखित आपको बताई जाएगी।

Mahila Police Kaise Bane?

वैसे तो पूरे भारत में सभी राज्यों में अपनी अलग अलग पुलिस व्यवस्था है जिसके लिए वह हर साल नई नई भर्तियां निकालते रहते हैं जिनमें पुरुष और महिला दोनों ही वर्गों के लिए होती है चाहे वह कांस्टेबल की हो यह सब इंस्पेक्टर की महिला पुलिस अधिकारी बनने के लिए बहुत सी ऐसी रिक्वायरमेंट रखी जाती है जिसमें यदि महिला फिट बैठती है तो उसे जॉइनिंग दे दी जाती है महिला पुलिस की बात करें तो आज हम पुलिस विभाग में महिला पुलिस सब इंस्पेक्टर कैसे बनते हैं उसकी विस्तृत जानकारी आपको बताएंगे वैसे तो महिला पुलिस के लिए बहुत सी ऐसी पोस्ट है परंतु सब इंस्पेक्टर कोर्स सबसे ज्यादा प्रभावशाली मानी जाती है जिसके लिए सभी राज्य एक अलग से भर्ती निकालते हैं निम्नलिखित महिला पुलिस अधिकारी बनने हेतु सभी प्रकार की जानकारियां दी जा रही है:

Mahila Police

1.शैक्षणिक योग्यता(Educational Eligibility)

यदि पुलिस विभाग में महिला सबस्पेक्टर की बात की जाए तो या पुरुष अभ्यार्थियों की भांति शैक्षिक योग्यता ग्रेजुएशन लेवल की मांग करता है यदि आप किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज अथवा यूनिवर्सिटी से किसी भी भाग से ग्रेजुएशन पास कर लिया है तो आप महिला पुलिस अधिकारी बनने के योग्य मानी जाएंगे क्योंकि वर्तमान समय में सभी राज्यों तथा केंद्र ने ग्रेजुएशन लेवल को किसी भी अधिकारिक पोस्ट के लिए अनिवार्य कर दिया है।

पुलिस इंस्पेक्टर (Police Inspector) कैसे बने

2.आयु सीमा(Age Limit)

यदि हम बात आयु सीमा की करें तो उत्तर प्रदेश राज जोकि अब तक की सबसे ज्यादा दरोगा भर्ती निकालता रहता है उसने पुरुष एवं महिला अयोग के लिए न्यूनतम 21 व अधिकतम 28 वर्ष तक की आयु सीमा निर्धारित की है तथा आरक्षण वर्ग के विद्यार्थियों के लिए 5 वर्ष अतिरिक्त भी प्रदान किया जाता है जिससे यदि आप इस आयु सीमा के अंतर्गत आती है तो आप किसी भी राज्य में महिला दरोगा भर्ती में शामिल होने के लिए योग्य है।

3. चयन प्रक्रिया(Selection Process)

किसी भी भर्ती में चाहे वह राज्य की हो या केंद्र की चयन प्रक्रिया से होकर ही गुजारना पड़ता है जस चयन प्रक्रिया कई प्रकार की होती हैं यदि हम महिला पुलिस अधिकारी के पद की बात करें तो इसमें भी वैसे ही चयन प्रक्रिया होती हैं जैसा पृष्ठ जातियों के लिए मानी जाती है निम्नलिखित इन की चयन प्रक्रिया बताई जा रही है:

आवेदन पत्र भरना:

किसी भी नौकरी की भर्ती के लिए सबसे पहले भर्ती बोर्ड की तरफ से नोटिफिकेशन जारी होता है जिसमें बोर्ड द्वारा आपका आवेदन मांगा जाता है वर्तमान समय में यह ऑनलाइन प्रक्रिया में भरा जाता है जो कि भली-भांति भरना होता है इसमें आपका नाम पता क्वालिफिकेशन एड्रेस आदि तरह की जानकारियां विस्तृत में मांगी जाती है जिसका विवरण भर्ती बोर्ड की साइट पर दर्ज हो जाता है।

Mahila Police

लिखित परीक्षा: वैकल्पिक

किसी भी नौकरी के लिए भर्ती बोर्ड द्वारा लिखित परीक्षा ली जाती है चाहे वह निम्न स्तर की हो या फिर उच्च स्तर की परंतु अभ्यार्थियों के परीक्षा देने के बाद ही उनका मेरिट के स्तर पर सिलेक्शन होता है यदि बात उत्तर प्रदेश राज्य की करें तो इसमें 400 नंबर का पेपर होता है जिसने 160 क्वेश्चन बहुविकल्पीय पूछे जाते हैं वर्तमान समय में यह नेगेटिव मार्किंग तो नहीं थी परंतु कई राज्यों में नेगेटिव मार्किंग के स्तर पर परीक्षा लिया जाता है उत्तर प्रदेश Mahila Police दरोगा की परीक्षा में यह स्तर ठीक पुलिस दरोगा के स्तर के बराबर होती है इसमें 50% अंक लाना अनिवार्य होता है जिसके हिसाब से मेरिट लिस्ट बनाई जाती है।

शारीरिक परीक्षा:दौड़

यदि महिला पुलिस की बात की जाए तो एक दरोगा की रैंक के लिए उसे 16 मिनट में 2.4 किलोमीटर की दौड़ पूरी करनी होती है तथा उसके साथ साथ कुछ निम्नलिखित बातें भी महत्वपूर्ण है:

ऊँचाई/ Height :

(i) General/OBC तथा SC महिला पुलिस अभ्यर्थियों की न्यूनतम ऊँचाई 152 सेन्टीमीटर होनी चाहिए तथा ST श्रेणी से आने वाली महिला पुलिस अभ्यर्थियों की न्यूनतम ऊँचाई 147 सेन्टीमीटर निर्धारित की गई है।

वजन/ Weight:

महिला अभ्यर्थियों का न्यूनतम वजन 40 किलोग्राम निर्धारित किया गया है यदि इसे कम मापने पर आता है तो फिर सिलेक्शन में दिक्कत मानी जाती है।

दस्तावेज जांच:

उपरोक्त प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद महिला विद्यार्थी को दस्तावेज की जांच के लिए बुलाया जाता है जिसमें हाईस्कूल, इंटर, ग्रेजुएशन, निवास प्रमाणपत्र,जन्म प्रमाणपत्र, जाति प्रमाणपत्र आदि का विवरण दर्ज किया जाता है तथा उन्हें भली-भांति जांचा जाता है ताकि भर्ती प्रक्रिया में किसी प्रकार की कोई धांधली ना हो सके।

मेडिकल परीक्षण:

सभी प्रक्रिया को पूरी करने के बाद अंतिम में मेडिकल परीक्षण के लिए महिला अभ्यर्थियों को बुलाया जाता है जिसमें उनसे संबंधित निम्नलिखित बातों को ध्यान में रखकर जांच की जाती है:

  • आपकी आंख 6/6 की हो तथा आपको स्पष्ट रूप से दिखाई देना चाहिए
  • Lasik Surgery नहीं होनी चाहिए यदि किसी महिला व्यक्ति ने लसिक सर्जरी कराई है तो उसे छोड़ दिया जाएगा।
  • रंगों की पहचान होनी चाहिए, Colour Blindness नहीं होना चाहिए।
  • अगर महिला अभ्यर्थी इन में से किसी भी चीज (knock knee, flat foot, varicose vein or squint in eyes) से परेशान है तो आपको मेडिकल में छांट दिया जायेगा|
  • कान में किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत या समस्या नहीं होनी चाहिए तथा आपको स्पष्ट रूप से सब सुनाई देना चाहिए।
  • लंबाई और वजन का अनुपात उतना ही होना चाहिए जितना भर्ती बोर्ड के द्वारा मानक तय किया गया है।

ट्रेनिंग:परीक्षण

उपरोक्त सभी प्रक्रिया में सिलेक्ट होने के बाद एक फाइनल मेरिट लिस्ट बनती है जिसमें यदि आप सिलेक्शन पा जाते हैं तो आपको 1 साल की ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाएगा जहां आपको 6 महीने की रिजर्व पुलिस लाइन में ट्रेनिंग दी जाएगी तथा 6 महीने ग्राउंड लेवल पर ट्रेनिंग दी जाएगी किसी थाने या फिर चौकी पर जिससे आपको सब कुछ भली-भांति समझ में आ जाए।

महिला पुलिस अधिकारी(Sub Inspector) का वेतनमान:

वर्तमान समय में महिला पुलिस अधिकारी सब इंस्पेक्टर के वेतनमान की बात की जाए तो या अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग निर्धारित किया गया है यदि एसएससी के माध्यम से कोई महिला पुलिस अधिकारी बनती हैं तो उनका ग्रेट पर ज्यादा होता है परंतु हम उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग की बात करें तो एक महिला पुलिस अधिकारी का ग्रेड पे ₹4200 निर्धारित किया गया है यह 32000 से लगभग एक लाख तक पहुंच जाता है तथा उसके साथ-साथ सरकार द्वारा महंगाई भत्ता, बोनस, मेडिकल सुविधा, आवास सुविधा आदि प्रदान की जाती है।

Conclusion:निष्कर्ष

जैसा कि आपको उपरोक्त Mahila Police बनने से संबंधित सभी जानकारियां मुहैया करा दी गई है यदि आप पुलिस विभाग में नौकरी करने की इच्छुक है तो आपके लिए यह आर्टिकल काफी ज्यादा उपयोगी साबित होगा क्योंकि इसमें आवेदन प्रक्रिया से लेकर ट्रेन तक की सुविधा आपको बताई गई है इसमें विशेष रूप से यह ध्यान दिया गया है की हमारे रीडर को किसी भी प्रकार की कोई असुविधा ना हो उसके लिए बहुत ही स्पष्ट और सटीक जानकारियां मुहैया कराई गई है यदि आपको उपरोक्त Article पसंद आया तो आप इसे शेयर करें।

Leave a comment